विधायक डॉ. राजकुमार का अनशन खत्म, प्रशासन ने दिलाया निष्पक्ष जांच का भरोसा

खबर - विकास कनवा 
व्यापार मंडल और आॅटो रिक्शा यूनियन ने नवलगढ़ बंद का निर्णय लिया वापस
रविवार को खुले रहेंगे नवलगढ़ और मुकुंदगढ़ के बाजार
नवलगढ़:- विधानसभा चुनावों के दौरान हुए कथित मुकदमे की निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर विधायक और कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. राजकुमार शर्मा का आमरण अनशन दूसरे दिन खत्म हो गया। पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने जल्द से जल्द निष्पक्ष जांच करके दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग को स्वीकार कर लिया। प्रशासन की ओर से सीईओ जेपी बुनकर और एएसपी नरेश मीणा ने डॉ. शर्मा से वार्ता करके तुड़वाया। डॉ. शर्मा ने पानी पीकर अनशन समाप्त किया। अनशन समाप्ति की घोषणा के साथ व्यापार मंडल और टैक्शी यूनियन ने प्रस्तावित नवलगढ़ बंद का निर्णय वापिस ले लिया है। युवा विकास मंच अध्यक्ष मनोज मील ने अनशन समाप्ति की घोषणा की। इस दौरान डीएसपी रामचंद्र मूण्ड, सीआई महावीरसिंह राठौड़, पालिकाध्यक्ष सुरेंद्र सैनी, मुकुंदगढ़ पालिकाध्यक्ष सत्यनारायण सैनी, मुकुंदगढ़ ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष व जिपस दिनेश सुण्डा, नवलगढ़ ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष राजेंद्र मेघवाल, समाजसेवी कैलाश चोटिया, पार्षद दिलीप मीणा, राजकुमार चेजारा, कांग्रेसी नेता प्रेमप्रकाश सैनी, मुरारी सैनी, महिला कांग्रेस ब्लाॅक अध्यक्ष सुभीता सीगड़, रियाज फारुखी, पंसस करणवीरसिंह, पूर्व उपप्रधान ताराचंद सैनी, सेवादल प्रदेश संगठक अनोखा सैनी, तोगड़ा सरपंच संजीव कुमार, कुमावास सरपंच बजरंगसिंह, परसरामपुरा सरपंच किशनदास, पूर्व सरपंच विजेंद्रसिंह दूत, सुरेश कुमार, डाॅ. अरूण शर्मा, सुरेश देवी, पवन खण्डेलवाल, सहीराम डूडी, रामकुमार डूमरा, हरिप्रसाद शर्मा, जांगिड़ समाज जिलाध्यक्ष मनरूप जांगिड़, सचिन सैनी, कपिल एचरा, भूपेश पारीक, रघुवीर झुरिया, दिनेश झाझड़िया सहित काफी लोग मौजूद थे। वहीं दूसरी ओर रामसा पीर मंदिर के बाहर धरने पर बैठी युवती‌ को प्रशासन ने देर शाम अस्पताल में भर्ती करवाया है।

Share This