हिरणा-कृष्णा गोविन्दा प्रह्लाद भदे.......

बीकानेर (जयनारायण बिस्सा)। भगवान विष्णु के अवतार नृसिंह  के प्राकट्य दिवस शहर के  विभिन्न स्थानों पर श्रद्धापूर्वक मनाया गया । इस मौके पर लखोटियों का  चौक,बिस्सों का चौक  ,लालाणी व्यासों का चौक,नत्थूसर गेट बाहर,जस्सूसर गेट के अंदर,नत्थूसर गेट,दम्माणी चौक् व दुजारियों की गली में नृसिंह भगवान की लीलाओं का मंचन  किया गया।  नृसिंह मंदिरों में पूजा अर्चना के साथ लोगों ने उपवास रखे।  सभी  स्थानों पर नृसिंह लीलाओं को देखने श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। मेले में असत्य  व सत्य के मध्य तीन युद्ध हुए जिसमें सत्य की विजय हुई और सूर्यास्त के बाद  नृसिंह देव ने हिरण्याकश्यप का वध कर सत्य की विजय पताका फहराई। जिस  पर श्रद्धालुओं ने पुष्प वर्षा करते हुए  हिरणा-कृष्णा गोविन्दा प्रह्लïाद भदे.......,  नृसिंह देव की जय के जयघोष लगाए और ढोल नगाड़े बजाकर खुशियां मनाई।  वहीं धार्मिक परम्परानुसार हर आयु वर्ग का भक्त भगवान नृसिंह व प्रह्लïाद से आशीर्वाद ग्रहण कर रहा था।  इस अवसर पर मंदिरों में पंचामृत व तुलसी,  मिश्री पताशा के प्रसाद का वितरण भी किया गया। सुबह से ही नृसिंह मंदिरों में भक्तों की आवाजाही शुरू हो गई। । रात्रि  में मंदिरों में जागरणों के आयोजन  हुए। मोहल्ले वासियों ने अपने घरों पर भी रोशनी कर मेले में चार चांद लगा  दिये। विभिन्न स्थानों पर संपन्न हुए मेले को देखने के लिये घरों की छतों पर श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा था। 

Share This