नवीनतम



 पोदार कॉलेज में राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस का आयोजन

पोदार कॉलेज में राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस का आयोजन


नवलगढः दी आनन्दीलाल पोदार ट्रस्ट द्वारा सचांलित संस्था पोदार कॉलेज के डॉ. रामनाथ आ. पोदार सभागार में डॉ. के.बी. शर्मा, अकादमिक/IQAC निदेशक के मुख्य आतिथ्य व डॉ. विनोद सैनी, उप-प्राचार्य की अध्यक्षता में राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस का आयोजन हुआ। मुख्य अतिथि ने राष्ट्रीय सेवा योजना के अंतर्गत सेवा भाव की भूमिका अनेक प्रेरक प्रसंगों के माध्यम से व्यक्त करते हुए विद्यार्थियों को प्रेरित किया।

उपप्राचार्य अपनी अध्यक्षीय  उद्बोधन में विद्यार्थियों को राष्ट्रीय चरित्र  का निर्वाह करते हुए स्वयं को पहचानने तथा राष्ट्र सेवा के लिये प्रेरित किया।राष्ट्रीय सेवा योजना के प्रथम इकाई के प्रभारी प्रो. शान्तिलाल जोषी ने राष्ट्रीय सेवा योजना की महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की व आयोजन का संचालन किया।

राष्ट्रीय सेवा योजना की द्वितीय इकाई की प्रभारी प्रो. सुमन सैनी ने अतिथियों को धन्यवाद प्रेषित किया।

पोदार ट्रस्ट के चेयरमैन श्री कान्तिकुमार आर. पोदार एवं ट्रस्टी सुश्री वेदिका पोदार ने राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस पर प्रथम एवं द्वितीय इकाई के विद्यार्थियों को शुभकामनाएँ प्रेषित की।




CM गहलोत का बड़ा ऐलान, नकल में सहयोग करने वाले सरकारी कार्मिक को किया जाएगा बर्खास्त

CM गहलोत का बड़ा ऐलान, नकल में सहयोग करने वाले सरकारी कार्मिक को किया जाएगा बर्खास्त

 
रीट-2021 की तैयारियों को लेकर वीसी के माध्यम से समीक्षा-

रीट परीक्षा देने वाले सभी अभ्यर्थियों को मिलेगी निःशुल्क यात्रा की सुविधा

पेपर लीक एवं नकल में संलिप्त सरकारी कर्मी होगा बर्खास्त 

जयपुर। मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) 2021 में शामिल होने वाले सभी अभ्यर्थियों को निःशुल्क यात्रा की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने निर्देश दिए कि रोडवेज की बसों के अलावा पर्याप्त संख्या में निजी बसों की व्यवस्था कर समस्त अभ्यर्थियों को निःशुल्क यात्रा की सुविधा दी जाए। उन्होंने कहा कि भर्ती परीक्षाओं में पेपर लीक, डमी केन्डीडेट बैठाने एवं नकल कराने जैसे प्रकरणों में किसी भी सरकारी अधिकारी-कर्मचारी की संलिप्तता पाए जाने पर उसे सेवा से बर्खास्त किया जाए। साथ ही, किसी निजी स्कूल के कार्मिक अथवा स्कूल से जुड़े व्यक्ति की संलिप्तता पाई गई तो संबंधित स्कूल की मान्यता स्थायी रूप से समाप्त कर दी जाए। 


 गहलोत गुरूवार को मुख्यमंत्री निवास पर रीट की तैयारियों को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आयोजित उच्च-स्तरीय बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं में नकल गिरोह द्वारा नकल कराने जैसे प्रकरण सामने आने के बाद अभ्यर्थियों की मेहनत पर पानी फिर जाता है। ऎसे में, इन नकल गिरोहों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि किसी भी परीक्षा केन्द्र पर लापरवाही नहीं बरती जाए। परीक्षा केन्द्राें पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं। उन्होंने माध्यमिक शिक्षा बोर्ड एवं जिला कलेक्टरों को निर्देश दिए कि प्रश्न पत्रों के प्रिटिंग प्रेस से परीक्षा केन्द्राेंं तक पहुंचने और वहां खोलने तक की पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई जाए। उन्होंने कहा कि रीट परीक्षा में शामिल हो रहे अभ्यर्थी परीक्षा केन्द्रों पर मोबाइल फोन लेकर नहीं जाएं। 


मुख्यमंत्री ने कहा कि रीट-2021 सहित भविष्य में होने वाली समस्त प्रतियोगी परीक्षाओं में पेपर लीक एवं नकल जैसी घटना होने पर सभी जिम्मेदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि रीट परीक्षा में शामिल होने वाले हमारे नौजवान अभ्यर्थी आने वाले समय में प्रदेश का भविष्य है। ऎसे में परीक्षा देने आए अभ्यर्थियों विशेषकर महिला अभ्यर्थियों को ठहरने एवं खाने-पीने की परेशानी हो, तो जनप्रतिनिधि, समाजसेवी एवं स्वयंसेवी संस्थान आगे बढ़कर इन अभ्यर्थियों की मदद करें। उन्होंने कहा कि जिला कलेक्टर जिले में स्वयंसेवी संस्थाओं से बात कर उन्हें मदद के लिए तैयार करें।


गहलोत ने कलेक्टर-एसपी को निर्देश दिए कि रीट परीक्षा के दौरान कानून एवं व्यवस्था बनी रहे यह सुनिश्चित किया जाए। साथ ही, वे निरंतर भ्रमण कर व्यवस्थाओं की निगरानी करें। उन्होंने हर जिले में कन्ट्रोल रूम स्थापित करने के निर्देश दिए ताकि अभ्यर्थी विशेषकर महिला अभ्यर्थी किसी तरह की परेशानी होने पर सूचना दे सकें। 


परिवहन मंत्री  प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि रोडवेज की समस्त बसें अभ्यर्थियाें की निःशुल्क यात्रा के लिए उपलब्ध रहेंगी। साथ ही, लोक परिवहन एवं अन्य निजी बसों की भी व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में परिवहन अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। 


शिक्षा राज्य मंत्री  गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि विभाग द्वारा पारदर्शिता के साथ रीट परीक्षा सम्पन्न कराने के लिए समस्त तैयारियां की गई हैं। उन्होंने सुझाव दिया कि पेपर लीक एवं नकल को रोकने के लिए परीक्षा केन्द्र के अन्दर किसी के भी मोबाइल ले जाने पर पूर्णतः पाबन्दी लगाई जाए। पेपर लीक एवं नकल में शामिल गिरोह एवं कोचिंग सेन्टर पर विशेष निगरानी रखी जाए। उन्होंने कहा कि परीक्षा केन्द्र मेें प्रवेश के समय अभ्यर्थियों से पहले वाला मास्क लेकर परीक्षा हॉल में नया मास्क उपलब्ध कराया जाए, ताकि मास्क में ब्लूटुथ लगाकर नकल करने की घटनाओं को रोका जा सके।


 बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव स्कूल शिक्षा  पीके गोयल ने 26 सितम्बर को दो पारियों में आयोजित होने वाली रीट-2021 परीक्षा को लेकर की गई तैयारियों के बारे में विस्तृत प्रस्तुतीकरण दिया। उन्होेंने बताया कि प्रदेश में 3993 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। परीक्षा के लिए 16 लाख 22 हजार 19 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। रेलवे ने अभ्यर्थियों के लिए 11 विशेष ट्रेन चलाने की सहमति दी है। कुछ और विशेष ट्रेन के लिए रेलवे से अनुरोध किया गया है। उन्होंने बताया कि रेलवे स्टेशन एवं महत्वपूर्ण बस स्टैण्डों पर कार्यपालक मजिस्ट्रेट एवं पुलिस जाप्ता तैनात रहेगा। 


माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर के चेयरमेन  डीपी जारोली ने बताया कि परीक्षा सामग्री जिलों में पहुंचाई जा रही है। संवेदनशील परीक्षा केन्द्रों पर विशेष व्यवस्था की जा रही है। पुलिस महानिदेशक  एमएल लाठर ने बताया कि परीक्षा के दौरान कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी जरूरी तैयारियां की गई है। उपलब्ध पुलिस फोर्स को रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड, प्रमुख कस्बों, बाजारों एवं परीक्षा केन्द्रों पर तैनात किया जाएगा। नकल रोकने के लिए इंटेलिजेंस इनपुट एवं टेक्नीकल सर्विलांस के आधार पर एसओजी एवं अन्य एजेंसियां सर्तकता के साथ कार्य कर रही हैं।


बैठक में मुख्य सचिव  निरंजन आर्य, प्रमुख शासन सचिव गृह  अभय कुमार, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था  सौरभ श्रीवास्तव, एडीजी (एसओजी) अशोक राठौड़ ने भी प्रशासन एवं पुलिस द्वारा की गई व्यवस्थाओं एवं तैयारियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। प्रमुख शासन सचिव वित्त, संभागीय आयुक्त, जिला कलेक्टर, एसपी, जिला परिवहन अधिकारी, शिक्षा विभाग एवं माध्यमिक शिक्षा बोर्ड सहित रीट परीक्षा से जुड़े विभिन्न विभागों के अधिकारी भी वीसी में शामिल हुए।


 पोदार शिक्षण संस्थाओं में मनाया हिन्दी दिवस

पोदार शिक्षण संस्थाओं में मनाया हिन्दी दिवस




नवलगढ़
-दी आनन्दीलाल पोदार ट्रस्ट द्वारा संचालित शिक्षण संस्था पोदार कॉलेज, पोदार बीएड कॉलेज, पोदार जीपीएस, पोदार हिन्दी माध्यम में हिन्दी दिवस मनाया गया। पोदार कॉलेज में डॉ सत्येन्द्र सिंह, प्राचार्य की अध्यक्षता में हिन्दी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ अनिल शर्मा के संयोजन में हिन्दी दिवस आयोजित किया गया। हिन्दी के सेवानिवृत व्याख्याता श्री सुरेश कुमार जांगिड एवं कवि श्री संतकुमार सोनी के आतिथ्य में हिन्दी दिवस का आयोजन सम्पन्न हुआ।  रसायन विज्ञान के विभागाध्यक्ष प्रो. चेतन दाधीच ने हिन्दी भाषा के नामकरण एवं उसकी ऐतिहासिक पृष्ठभूमि पर विचार व्यक्त करते हुए हिन्दी भाषा को अधिक से अधिक दैनिक जीवन में अपनाने का संदेश दिया ।व्याख्याता सुरेश कुमार जांगिड ने हिन्दी भाषा पर अपनी स्वरचित कविता सुनाते हुए हिन्दी भाषा के महत्त्व पर विचार व्यक्त किए। कवि सन्तकुमार सोनी ने हिन्दी भाषा पर स्वरचित छोटे दोहे सुनाते हुए हिन्दी भाषा की महिमा का बखान किया। पोदार कॉलेज उप-प्राचार्य ने हिन्दी भाषा को अपनाने और उसके माध्यम से प्रगति के नये आयाम खोजने के संदेश प्रदान किए। 

पोदार कॉलेज प्राचार्य डॉ सत्येन्द्र सिंह ने सभी अतिथियों को धन्यवाद प्रेषित किया। इसी प्रकार पोदार पोदार बीएड कॉलेज में प्राचार्या डॉ दुर्गा भोजक की अध्यक्षता में हिन्दी दिवस मनाया गया। प्रो अनिल शर्मा ने हिन्दी दिवस की महत्ता पर प्रकाष डाला। इसी प्रकार पोदार जीपीएस में प्राचार्य श्री जीन सीके की अध्यक्षता में हिन्दी दिवस मनाया गया। पोदार हिन्दी माध्यम प्राचार्य डॉ पूजा पंवार  की अध्यक्षता में हिन्दी दिवस मनाया गया । 

पोदार ट्रस्ट के चेयरमैन कांतिकुमार आर पोदार व ट्रस्टी सुश्री वेदिका पोदार सभी को हिन्दी दिवस की शुभकामनाएं प्रेषित की।