नवीनतम



पोदार शिक्षण संस्थाओं में मनाया विश्व पृथ्वी दिवस!

पोदार शिक्षण संस्थाओं में मनाया विश्व पृथ्वी दिवस!

नवलगढ़: दी आनन्दीलाल पोदार ट्रस्ट की ट्रस्टी सुश्री वेदिका पोदार द्वारा चलाई जा रही मुहिम ‘‘वृक्ष लगाओ - भविष्य बचाओ’’ के तहत् पोदार काॅलेज, पोदार टी.टी. काॅलेज, पोदार जी.पी.एस., पोदार एस.के.पी. टायनी टोडलर, पोदार हिन्दी माध्यम, पोदार प्राइमरी एवं पोदार आई.टी.आई में पृथ्वी दिवस मनाया गया। इस मौके पर पोदार काॅलेज जूलोजी विभागध्यक्ष प्रो. दाऊलाल बोहरा ने विद्यार्थियों को पृथ्वी दिवस मनाए जाने के बारे में विस्तार से बताया। इन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि पृथ्वी दिवस एक वार्षिक आयोजन है जिसे प्रति वर्ष 22 अप्रैल को दुनिया भर में पर्यावरण संरक्षण के लिए समर्थन प्रदर्शित  करने के लिए आयोजित किया जाता है। जिसे मनाने का सबसे बड़ा कारण है कि पृथ्वी और पर्यावरण के प्रति लोगों को जागरूक करना है। इस दिन हर कोई पृथ्वी को बचाने का संकल्प करता है। हमें आज के दिन यह संकल्प लेना चाहिए कि हम पृथ्वी पर कम से कम कचरा फैलायें अधिक से अधिक पेड़ लगाये व कम से कम बिजली का इस्तेमाल करें और बेकार में पानी न बहाएं। विश्व  पृथ्वी दिवस के मौके पर विद्यार्थियों द्वारा काॅलेज परिसर में वृक्षारोपण किया गया।
पोदार ट्रस्ट के चेयरमैन कान्तिकुमार आर. पोदार व ट्रस्टी सुश्री वेदिका पोदार ने विष्व पृथ्वी दिवस पर सभी को शुभकामनाएं प्रेषित कर कहा कि पृथ्वी को सुरक्षित व सुन्दर रखने के लिए सभी को अधिकाधिक वृक्ष लगाकर एवं पृथ्वी को कचरा मुक्त बना कर सुन्दर बनाने के लिए कार्य करना चाहिए।

तीन जून को खाटूश्यामजी में आयोजित होगा पत्रकार सम्मेलन व प्रतिभा सम्मान समारोह

तीन जून को खाटूश्यामजी में आयोजित होगा पत्रकार सम्मेलन व प्रतिभा सम्मान समारोह

खबर - प्रदीप सैनी 

दांतारामगढ़ पत्रकार समिति की बैठक आयोजित।
उल्लेखनीय व सराहनीय योगदान देने वाले लोगों को किया जाएगा सम्मानित
दांतारामगढ़। पत्रकार समिति (रजि.) तहसील दांतारामगढ की बैठक खाटूश्यामजी की कानपुर वालों की धर्मशाला में पत्रकार समिति के संरक्षक जगन्नाथ प्रसाद मर्मी की अध्यक्षता में आयोजित हुई। बैठक में पत्रकार सम्मेलन व प्रतिभा सम्मान समारोह आयोजित करने पर विचार विमर्श किया गया। समिति के महामंत्री विकास सोनी ने बताया कि आगामी तीन जून को खाटूश्यामजी मे पत्रकार सम्मेलन करने का निर्णय लिया गया। सम्मेलन में विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय व सराहनीय योगदान देने वाले प्रबुद्धजनों को सम्मानित किया जायेगा। बैठक में दीपक पाराशर ने बताया कि समिति के सभी सदस्यों का पंजीकरण किया जायेगा। समिति के संरक्षक डी. पी. कौशिक ने कहा कि पत्रकारों के साथ अभद्र व्यवहार करने वाले लोगों का समिति द्वारा बहिष्कार किया जायेगा। वहीं अध्यक्ष सीताराम मर्मी ने आगामी लोकसभा चुनाव मे निष्पक्ष व निर्भिकता के साथ पत्रकारिता धर्म निभाने पर जोर दिया। बैठक में ओमप्रकाश शर्मा ने समिति की बैठक नियमित रूप से करने पर जोर दिया तथा समिति के लिए जमीन आंवटन की जिम्मेदारी हेमंत कुमावत को दी गई। बैठक में विद्याधर शर्मा, प्रमोद शर्मा, प्रदीप सैनी, गिरधारी सोनी, राजेश धायल, रमेश प्रजापत, नरेश मिश्रा, विष्णु दत्त तिवाड़ी, रणवीर सिंह सौंलकी सहित पत्रकार मौजूद थे।
देवलावास में आए थे सगाई की रस्म करने लेकिन चटमंगनी पट ब्याह करके बिना दहेज ले गए दुल्हन

देवलावास में आए थे सगाई की रस्म करने लेकिन चटमंगनी पट ब्याह करके बिना दहेज ले गए दुल्हन

खबर - हर्ष स्वामी 
सिंघाना। अपनी शादी में दूल्हा-दुल्हन पल-पल की खबर रखते हैं। बारातियों को भी पता होता है कि कब बारात पहुंचेगी। कब फेरे व अन्य रस्में होंगी, मगर इस शादी में हर कोई इन सबसे अनजान था। खुद दूल्हे को भी पता नहीं था कि वह घर दुल्हन लेकर लौटेगा और दुल्हन ने भी सोचा तक नहीं था कि वह आज ही बाबुल के घर से विदा होकर ससुराल चली जाएगी। यह शादी रविवार शाम को झुंझुनूं जिले के पचेरी कलां क्षेत्र के गांव देवलावास में हुई। दूल्हे के परिजन इंजीनियर बेटे की यहां सगाई करने पहुंचे थे, मगर शादी ही कर दी गई।
इस शादी ने समाज को कम खर्चे में बिना दहेज की शादी करने का संदेश
देवलावास के मोहनलाल की ग्रेजुएट बेटी सपना और हरिपुरा वाया सूरजगढ़ निवासी सत्यप्रकाश के इकलौते बेटे प्रवीण जाट के साथ सगाई होनी थी। लेकिन सभी परिवारजनों व दूल्हा दुल्हन की रजामंदी से सगाई की रस्म में ही शादी करने का निर्णय ले लिया। तुरंत ही बान बनोरे के कार्यक्रम शुरू हो गए। दुल्हन सपना को घोड़ी पर बैठाकर बनोरी निकाली गई। जो कि गांव में चर्चा का विषय बन गई और सभी इस शादी को एक अच्छा संदेश देने वाली बताया इस दौरान हेमन्त सावल, हवासिंह भापर, पूर्व सरपंच नगेन्द्र हरीपुरा, विनोद काजला समेत सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।