नवीनतम



निकाय चुनाव-2021:- नाम वापसी के बाद सदस्य पद के लिए 9930 उम्मीदवार चुनावी मैदान में

निकाय चुनाव-2021:- नाम वापसी के बाद सदस्य पद के लिए 9930 उम्मीदवार चुनावी मैदान में


जयपुर।
प्रदेश के 20 जिलों के 90 निकायों (1 नगर निगम, 9 नगर परिषद और 80 नगर पालिका) में सदस्य पदों के लिए होने वाले चुनाव में नाम वापसी के बाद कुल 9930 उम्मीदवार चुनावी मैदान में रह गए हैं।

मुख्य चुनाव आयुक्त  पीएस मेहरा ने बताया कि नाम वापसी की आखिरी तिथि तक 2341 प्रत्याशियों ने नाम वापस लिए, जबकि 50 उम्मीदवार निर्विरोध निवार्चित हो चुके हैं। इन सभी निकायों में 28 जनवरी को प्रातः 8 से सायं 5 बजे तक मतदान होगा, जबकि मतगणना 31 जनवरी, प्रातः 9 बजे से होगी।

 मेहरा ने बताया कि सदस्य पद के लिए 11 जनवरी को लोक सूचना जारी होने के साथ नामांकन पत्र भरने की प्रक्रिया शुरू हो गई थी। नामांकन पत्र भरने की अंतिम अंतिम तिथि तक 15101 उम्मीदवारों द्वारा 18510 नामांकन पत्र दाखिल किए गए। उन्होंने बताया कि नामांकन पत्रों की संवीक्षा और नाम वापसी के बाद अब 9930 उम्मीदवार चुनावी मैदान में शेष रह गए हैं।

30 लाख से ज्यादा मतदाता करेंगे उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला

चुनाव आयुक्त  पीएस मेहरा ने बताया कि प्रदेश के 20 जिलों (अजमेर, बांसवाड़ा, बीकानेर, भीलवाड़ा, बूंदी, प्रतापगढ़, चित्तौड़गढ़, चूरू, डूंगरपुर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, जालौर, झालावाड़, झुंझुनूं, नागौर, पाली, राजसमंद, सीकर, टोंक और उदयपुर) के 90 निकायों (1 नगर निगम, 9 नगर परिषद और 80 नगर पालिका) में से 87 नगर निकायों की निर्वाचक नामावली का अंतिम प्रकाशन 20 जुलाई 2020 को जबकि 3 निकायों की नामावलियों का प्रकाशन 19 नवंबर को किया जा चुका है।  1 जनवरी 2021 की अर्हता के संबंध में 4 जनवरी तक जोड़े गए नामों के बाद कुल 30 लाख 28 हजार 544 मतदाता हैं, जिनमें से 15 लाख 47 हजार 974 पुरुष, 14 लाख 80 हजार 514 महिला और 56 अन्य मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि 3035 वाडोर्ं के लिए 5253 मतदान केंद्रों पर मतदान होगा।

चुनाव प्रचार के दौरान हो कोविड गाइड लाइन की कड़ाई से पालना

चुनाव आयुक्त ने कहा कि नाम वापसी के बाद प्रचार का दौर बढ़ जाएगा, ऎसे में किसी भी हाल में कोविड के दिशा-निर्देशों की अवहेलना ना हो। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान उम्मीदवार या उसके समर्थक किसी के गले नहीं लगे, किसी के पैर ना छूएं और ना ही किसी से हाथ मिलाएं। प्रचार के दौरान केंद्र, राज्य, आयोग और स्थानीय प्रशासन द्वारा कोरोना संबंधी जारी दिशा-निर्देशों की कड़ाई से पालना जरूरी है। उन्होंने कहा कि आयोग की मंशा पूर्ण रूप से सुरक्षित और शांतिपूर्ण मतदान कराने की है। ऎसे में आमजन का सहयोग अनिवार्य है।  

अध्यक्ष के लिए 1 फरवरी को होगी अधिसूचना जारी

मेहरा ने बताया कि सदस्य पदों की मतगणना के बाद 1 फरवरी को अध्यक्ष के लिए लोक सूचना जारी होगी। नामांकन पत्र 2 फरवरी अपराह्व 3 बजे तक प्रस्तुत किए जा सकेंगे। उन्होंने बताया कि नामांकन पत्रों की संवीक्षा की तिथि 3 फरवरी को होगी, जबकि 4 फरवरी को अपराह्व 3 बजे तक अभ्यर्थिता वापिस ली जा सकेगी। चुनाव चिन्हों का आवंटन नाम वापसी के तुरंत बाद 4 फरवरी को ही किया जाएगा। अध्यक्ष के लिए मतदान 7 फरवरी को प्रातः 10 बजे से अपराह्व 2 बजे तक होगा, जबकि मतगणना मतदान समाप्ति के तुरन्त बाद होगी। उन्होंने बताया कि इसी तरह उपाध्यक्ष के लिए निर्वाचन 8 फरवरी को होगा।
बीएसएनएल द्वारा  हाई स्पीड इंटरनेट सुविधा ऑप्टिकल फाइबर अब मुकुंदगढ़ में भी

बीएसएनएल द्वारा हाई स्पीड इंटरनेट सुविधा ऑप्टिकल फाइबर अब मुकुंदगढ़ में भी


खबर - कुलदीप सांखला 

मुकुंदगढ़ -बीएसएनएल द्वारा ऑप्टिकल फाइबर माध्यम से हाई स्पीड इंटरनेट सुविधा भारत  फाइबर की मुकुंदगढ़ कस्बे में शुरुआत कर दी गई है। महाप्रबंधक बीएसएनएल झुंझुनू राकेश कुमार ने मुकुंदगढ़ का दौरा किया और उपभोक्ताओं को इस बारे में अवगत कराया। बीएसएनएल भारत फाइबर इंटरनेट के द्वारा 300 एमबीपीएस तक की डाउनलोड स्पीड दे रहा है। सभी उपभोकताओं की उनकी जरुरत के हिसाब से अलग अलग टैरिफ प्लान उपलब्ध हैं। 849 प्लान में 849 रुपए प्रतिमाह में 100 एमबीपीएस स्पीड दी जा रही है। 1277 रूपए प्रति माह में 200 एमबीपीएस स्पीड दी जा रही है। साथ में टेलीफोन पोर्ट से असीमित वॉयस कॉलिंग की फैसिलिटी भी दी जा रही है। उपभक्ताओं में भारत फाइबर की सुविधा शुरू होने पर खुशी प्रकट की। महाप्रबंधक ने उपभोक्ताओं को अच्छी आफ्टर सेल सर्विस का भरोसा दिलाया। उपमहाप्रबधक प्रमोद राहड़, सहायक महाप्रंधक सुभाष आबूसरिया  , जेटीओ देवेंद्र, जू.इ प्रीतम  भी मुकुंदगढ़ दौरे पर महाप्रबंधक के साथ थे।


विख्यात उधोगपति कमल मुरारका के निधन पर शोक संतप्त बैठक 17 जनवरी 2021 को दोपहर 2 से 5 बजे तक मोरारका हवेली,नवलगढ़ पर होगी

विख्यात उधोगपति कमल मुरारका के निधन पर शोक संतप्त बैठक 17 जनवरी 2021 को दोपहर 2 से 5 बजे तक मोरारका हवेली,नवलगढ़ पर होगी


नवलगढ़ -
पूर्व केंद्रीय मंत्री व् विख्यात उधोगपति कमल मुरारका का निधन 15  जनवरी को मुम्बई स्थित उनके निवास पर हो गया।  इसके चलते नवलगढ़ में उनके पैतृक निवास मोरारका हवेली पर  शोक संतप्त बैठक 17 जनवरी 2021 को दोपहर 2 से 5 बजे तक होगी