29वे सड़क सुरक्षा सप्ताह के समापन पर वाहन चालकों को प्रेरित करने वाले स्कूली बच्चों को किया सम्मानित

खबर - विकास कनवा 
उदयपुरवाटी । कस्बे के मुख्य बस स्टैंड अग्रसेन विश्राम भवन के परिसर में 29 वे सड़क सुरक्षा सप्ताह को लेकर हेलमेट की आवश्यकता पर कार्यशाला कार्यक्रम में भाग लेने वाले स्कूली बच्चों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर उपखंडअधिकारी शिवपाल जाट की अध्यक्षता में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान सड़क सुरक्षा सप्ताह व यातायात के नियमों की जानकारी देने में पुलिस का सहयोग करने वाली स्कूली बच्चों का सम्मान किया गया। प्रथम स्थान पर केंद्रीय विद्यालय की राईना रही। दूसरे स्थान पर सुभाष अग्रवाल ,तीसरे स्थान पर अंजना सैनी रही, वक्ताओं ने कहा कि सुरक्षा केवल नारा नहीं, बल्कि जीवन जीने का तरीका है। विश्व में सर्वाधिक दुर्घटनाएं भारत में ही होती है। दुर्घटनाओं में 85 प्रतिशत पुरुष व 15 प्रतिशत महिलाएं घायल व जान गंवाती है। उन्होंने कहा कि देश में वर्तमान में सड़कों पर सर्वाधिक बाइक दौड़ती है। चालकों को हेलमेट को बोझ नहीं सुरक्षा कवच मानना चाहिए। इसके पहनने से दुर्घटना होने पर चालक के सिर की सुरक्षा होती है।उदयपुरवाटी थाना अधिकारी ने कहा कि हेलमेट को बोझ समझना जीवन के सपनों के लिए बाधक है।सड़क पर कभी भी हादसा हो सकता है। ऐसे में अपने सपनों को पूरा करने के लिए लोगों को आवश्यक रूप से हेलमेट लगाना चाहिए। उन्होंने कहा कि जीवन होगा, तब ही सपनों को पूरा किया जा सकता है। पुलिस लोगों की सहायता के लिए है ना कि परेशानी के लिए।  लोगों को यातायात नियमों का पालन कर पुलिस का सहयोग करना चाहिए। लेकिन आज का युवा थोड़ी सी लापरवाही कर अपने खून से सड़कें लाल कर रहा है। इससे कई युवाओं को समय से पहले काल का ग्रास भी बनना पड़ा है। उन्होंने देश को आगे बढ़ाने के लिए युवाओं से आगे बढऩे तथा यातायात नियमों का पालन करने की अपील भी की। उपखंड अधिकारी शिवपाल जाट,उदयपुरवाटी थानाअधिकारी रामेश्वरलाल बगड़िया, केंद्रीय विद्यालय के प्रधानाचार्य रविन्द्र चौधरी, ताराचंद सामोता, बजरंग दल के प्रवक्ता मुकेश सैनी, ट्रैफिक इंचार्ज रणवीर, पुलिस कर्मी मौजूद रहे।

Share This