सैनिक स्कूल जिले के लिए बड़ी सौगात- प्रभारी सचिव

खबर - अरुण मूंड 
झुंझनूं। साईंस एण्ड टे€नॉलोजी के प्रमुख शासन सचिव एवं जिले के प्रभारी सचिव संदीप वर्मा ने कहा है कि जिले के प्रभारी बनने के बाद उनकी सबसे पहली प्राथमिकता जिले में सैनिक स्कूल प्रारंभ करवाने की थी और सबके अथक प्रयासों से अब यह प्राथमिकता जल्द ही पूरी होने जा रही है। उन्होंने डाईट परिसर के अस्थाई भवन में 2 मई से शुरू होने जा रहे सैनिक स्कूल पर प्रसन्नता व्य€त करते हुए कहा कि सैनिक स्कूल जिले के लिए बडी सौगात है, €योंकि यह जिला सैनिकों के जिलों के नाम से जाना जाता है। श्री वर्मा मंगलवार को जिला परिषद् सभागार में जिला परिषद् सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक में मुख्यमंत्री जन संवाद के दौरान प्राप्त परिवादों की समीक्षा कर रहे थे। श्री वर्मा ने जिला सैनिक कल्याण अधिकारी को निर्देश दिए कि वे रिपोर्ट बनाकर पेश करें कि जिले में कहां-कहां आर्मी कैंटीन की आवश्यकता है। सैनिक स्कूल के अधिकारियों ने बताया कि 22 मई को स्कूल का विधिवत शुभारम्भ कर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे। इस वर्ष स्कूल में प्रवेश के लिये 80 बच्चों का चयन किया गया है। प्रभारी सचिव ने अधिकारियों को सावचेत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के जन संवाद कार्यक्रम के दौरान मौखिक एवं लिखित शिकायतों के समाधान के लिये संबंधित अधिकारी प्रकरण पर त्वरित कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि अधिकारियों ने लम्बित प्रकरणों पर 7 दिन में कार्यवाही कर उन्हें अपडेट करें, नहीं तो संबंधित अधिकारी को चार्जशीट दी जायेगी। जिले के प्रभारी सचिव 21 मई को रिव्यू बैठक लेंगे। उन्होंने जिला स्तरीय अधिकारियों से कहा कि जो प्रकरण जिला स्तर पर निपटाएं जाने हैं, उनका निस्तारण जिला स्तर पर तथा जो प्रकरण राज्य स्तर के हंै, उनको आगे फारवर्ड कर रिपोर्ट पेश करें। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि जिन प्रकरणों को राज्य स्तर पर भिजवाया गया है, उन प्रकरणों पर भी ऊपर बात कर वस्तुस्थिति स्पष्ट कर अपडेट करें। बैठक में जिला कले€टर दिनेश कुमार यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में सैनिक स्कूल की कई दिनों से आवश्यकता महसूस की जा रही थी। उन्होंने बताया कि इस जिले में सैनिक स्कूल खुल जाने से यहां के सैनिकों में एक खुशी सी देखी जा रही है। उन्होंने बताया कि यह जिला देश के लिये देश भ€तों की पूरी जमात तैयार करता है। उन्होंने बताया कि यह स्कूल सैनिकों के होनहार बच्चों को एक नई दिशा देगा। जिला परिषद् के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेपी बुनकर, अति. जिला कले€टर मुन्नीराम बागडिया सहित विद्युत, जलदाय, सावर्जनिक निर्माण विभाग, चिकित्सा, महिला अधिकारिता, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग सहित बडी संख्या में विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Share This