गोरीयां धनावता की पहाड़ियों में चल रहा है अवैध खनन

खबर - विकास कनवा 
अरावली में अवैध खनन, छीन रहा जानवरों का आवास
उदयपुरवाटी कस्बे के निकटवर्ती राजस्व ग्राम गोरियां व धनावता की अरावली की पहाड़ियों में अवैध खनन का खेल सालों से चला आ रहा है। पहाड़ का सीना छलनी करके अवैध खनन माफिया सालों से अपनी जेब भर रहे हैं, लेकिन माफियाओं का यह खेल जानवरों पर खासा भारी पड़ रहा है।अरावली की गोद में रहने वाले जानवरों को अवैध खनन के चलते पलायन करना पड़ रहा है। सरकार के तमाम नियमों के बावजूद भी अवैध खनन पर रोक लगा पाना संभव नहीं हो पा रहा है। आए दिन सैकड़ों वाहन पत्थरों से भरकर निकल रहे हैं। उदयपुरवाटी राजसमाचार  संवाददाता अरावली की पहाड़ी में चल रहे अवैध खनन चोरी छुपे कवरेज कैद किया ।


जंगली जानवर ,पहाड़ छोड़ने को मजबूर हो रहे जानवर

अरावली की पहाड़ियों में सालों से अवैध खनन चल रहा है। अवैध खनन के चलते पर्यावरण संतुलन तो बिगड़ ही रहा है साथ ही साथ बेशकीमती जड़ी बूटियां, पेड़ पौधे व जंगली जानवरों तक का अस्तित्व सिमटने लगा है। अरावली में जहां-जहां भी तेजी से खनन हुआ है वहां से जानवरों का पलायन हो चुका है। वहीं जंगली जानवरों की पहाड़ों से निकलने की घटनाएं भी तेजी से बढ़ी है। 

उदयपुरवाटी विधानसभा के आधा दर्जन जगह हो रहा है अरावली की पहाड़ियों में अवैध खनन, पहाड़ों में अवैध तरीके से ट्रैक्टर ट्रॉली आ जाने के लिए रास्ते बना दिए है। जिसके चलते रात दिन ट्रैक्टर पत्थरों के भरकर पत्थर दौह रहे हैं। गांव के पशुपालक लोगों को भी भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लोग अपने पशुओं को पहाड़ियों में छोड़ दिए थे पहाड़ियों में पेड़ पौधे करण के चलते उखाड़े जा रहे हैं जिससे पशुपालन करने वाले लोगों को भी भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। पहाड़ी में स्थित हरे भरे पेड़ों को JCB के द्वारा उखाड़ कर नष्ट किया जा रहा है।

अवैध खनन के लिए बना डाली 2 किलोमीटर लंबी सड़क, खनन माफियाओं ने अवैध खनन के लिए पहाड़ों में 2 किलोमीटर लंबी अवैध ग्रेवल सड़क बना दी जिससे दिन रात पत्थरों का परिवहन कर रहे हैं। और मोटी रकम कमा रहे हैं। वन विभाग के अधिकारियों को सूचना होने के बाद भी मौके पर नहीं पहुंच रहे हैं। वन विभाग के अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचने पर ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि 1 विभाग के अधिकारियों की भी मिलीभगत है जिसके चलते पिछले काफी समय से अवैध खनन हो रहा है।



Share This