अपराधी अब किसी भी राज्य में जाएं पुलिस से बच नहीं पाएंगे- वीरेंद्र मीणा

खबर - जयंत खांखरा 
खेतड़ी -गुरु ग्राम में हुई इंटरस्टेड पुलिस समन्वय बैठक मैं कई खास मुद्दों पर चर्चा हुई और अधिकारियों ने आपस में अवगत करवाया कि अक्सर अपराधी एक राज्य में अपराध करके दूसरे राज्य में संडे लेते हैं और भूमिगत हो जाते हैं अपराध करके दूसरे राज्यों में भूमिगत हुए अपराधियों को पकड़ने में 4 राज्यों की पुलिस आपस में सहयोग करेंगी। यह बात खेतड़ी पुलिस उप अधीक्षक वीरेंद्र कुमार मीणा ने गुरुग्राम हरियाणा में हुई हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की अध्यक्षता में पुलिस समन्वयक बैठक में भाग लेकर आते ही कहीं गुरुवार को जब खेतड़ी पहुंचे तो उन्होंने  एक्शन शुरू कर दिया और गुरुवार को अपने दफ्तर में थाना अधिकारी हरदयाल सिंह और पुलिस स्पेशल टीम अधिकारी ए एस आई विरेन्द्र यादव,कल्याण सिंह,ए एस आई अशोक कुमार  को बुलाकर दिशा निर्देश दिए की सीमावर्ती क्षेत्रों पर विशेष निगरानी रखी जाए अपराधी का ब्यौरा लेकर रखें। गुरूग्राम की बैठक में निर्णय लिए गए की सीमावर्ती क्षेत्रों में संयुक्त नाकाबंदी व गश्त की जाएगी ,वाहन चोर गिरोह के बारे में सूचना का आदान प्रदान भी करेंगे, लावारिस मृत शरीरों की पहचान करने में भी 4 राज्यों की पुलिस आपस में सहयोग करेगी, अवैध तरीके से खनन गायों की तस्करी लकड़ी वाहनों में मिलावटी खाद्य पदार्थों की तस्करी, शराब व नशीले पदार्थों की तस्करी पर आपस में मिलकर सामंजस्य बनाकर अपराध पर अंकुश लगाएंगे, अवैध हथियारों की तस्करी, फर्जी हथियार ,उग्रवादियों माओवादियों अवैध बांग्लादेशी रोहिंग्यास पर सूचना का आदान प्रदान भी करेंगे ,अंतर राज्य और लोडिंग वाहनों पर भी अंकुश लगाएंगे ,सीमावर्ती क्षेत्रों में लिंग परीक्षण कन्या भ्रूण हत्या, यातायात का सुचारु रुप से संचालन भी संयुक्त रूप से करेंगे ,कांवड़ यात्रा के दौरान कानून व्यवस्था में सामंजस्य बनाएंगे, इसी के साथ ऑनलाइन धोखाधड़ी और साइबर अपराध की रोकथाम ,पुलिस व आम जनता की भलाई के लिए योजनाओं का आदान-प्रदान भी किया जाएगा। खूंखार गैंगस्टर व अन्य जघन्य प्रवृत्ति के लोग जो फिरौती अपहरण जैसे जघन्य अपराधों को अंजाम देने के उपरांत एक दूसरे में जाकर भूमिगत हो जाते हैं उनके संबंध में पूर्ण विवरण सहित विचार विमर्श किया जाएगा और उनकी धरपकड़ की जाएगी। गुरुग्राम में हुई बैठक में राजस्थान की ओर से 10 पुलिस अधिकारी जिनमें एसओजी के आईजी एम एन दिनेश, व जयपुर रेंज के आईजी हेमंत प्रियदर्शी व खेतड़ी पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र कुमार मीणा भी शामिल हुए।

Share This