चाचा को भतीजों ने उतार दिया मौत के घाट

श्रीडूंगरगढ के उदरासर गांव में पारिवारिक रंजिश के चलते एक जने की हत्या
बीकानेर(जयनारायण बिस्सा)। जिले में श्रीडूंगरगढ तहसील के उदरासर गांव में पारिवारिक रंजिश के चलते भतीजों ने लाठियों और जेई  से कातिलाना हमला कर अपने सगे चाचा को मौत के घाट उतार दिया। वारदात की सूचना मिलने के बाद मौके पर  पहुंची श्रीडूंगरगढ पुलिस ने मोैका मुआयना कर मृतक 40 वर्षीय सहीराम मेघवाल पुत्र रूघाराम के शव को कब्जे में  लेकर पोस्टमार्टम के लिये कस्बे के स्वास्थ्य केन्द्र भिजवाया। उदरासर की रोही में हुई हत्या की इस वारदात से गांव  में सनसनी  फैल गई। वारदात को अंजाम देने के बाद अभियुक्त रामनिवास ,हजारीराम,श्योनारायण पुत्रगण मामराज  मेघवाल तथा हेतराम पुत्र बागाराम मेघवाल मौके से फरार हो गये। इनमें से रामनिवास और हजारीराम को पुलिस ने  हिरासत में ले लिया है,जबकि तीन अभियुक्तोंं की सरगर्मी से तलाश चल रही थी। श्रीडूंगरगढ पुलिस उप अधीक्षक  जगदीश बोहरा ने बताया कि उदरासर के मेघवाल परिवार में चाचा सहीराम और उसके भतीजों में घरेलू मामले को  लेकर विवाद चल रहा था,इसे लेकर चार-पांच दिन पहले हुई झगड़ेबाजी के बाद पुलिस ने दोनों  पक्षों के खिलाफ कार्यवाही कर पांबद कर दिया था। गुरूवार सुबह सहीराम मेघवाल शौच के लिये रोही में जा रहा  था,इसी दरम्यान लाठी और जेई से लैश होकर उसका पीछा करते पहुंचे चार भतीजों और एक अन्य ने कातिलाना  हमलाकर सहीराम को मौके पर ही मौत घाट उतार दिया। वारदात के बाद पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए दो  आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार वारदात के संबंध में मृतक सहीराम के  भाई काशीराम की रिपोर्ट पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप  दिया है। 

Share This