इरादतुल्लाहशाह दरगाह में उमड़ा अकीदतमंदों का सैलाब

खबर - मोहम्मद आरिफ चंदेल 

इस्लामपुर. ऐतिहासिक दरगाह हजरत इरादतुल्लााशाह का सालना उर्स मुबारक गुरूवार को पूरी अकीदत व ऐहतराम के साथ मनाया गया। सुबह कुरआनखानी और असर की नमाज के बाद फातेहाखानी की गई। फातेहाखानी में विभिन्न पकवानों पर नियाज  लगाकर जायरीनों को तबर्रूक तकसीम किया गया। तबर्रूक के बाद आलिमों ने हजरत की मजार पर अकीदत के फूल पेश किए और अमन-चैन की दुआ की गई। दुआ के बाद फनकारों ने हजरत की शान में ऐ मदीने के शाह मुझको भीख दे दे, ततो-ताज और हुकूमत नहीं मांगता.. जैसे एक से बढ़कर एक कलाम पेश किए। मगरीब की नमाज के बाद लंगर लगाया गया। इस अवसर पर गद्दीनशीन पीर अताउर्रूहमान, हजरत कमरूद्दीनशाह दरगाह के गद्दीनशीन एजानबी, इज्जतुल्लाहशाह दरगाह बगड़ के गद्दीनशीन पीर दीन मोहमद,अशरफ अली मोयल, जयपुर से अब्दुल वहीद, सईद अहमद, मौलाना जफर, फजलुर्रहमान, सरदार अहमद, मंजूर अहमद, ताज मोहमद नाई, वाहीद पठान, युसुफ तंवर, अब्दुल मजीद अब्बासी, अब्दुल रहमान तगाला, आदिल मलिक, नवाब, सोनू पठान, जाफर लिलगर, बरकत अली व रज्जू पठान सहित काफी तादाद में जायरीन मौजूद थे।

Share This