ड्यूटी समय को लेकर अस्पताल कर्मियों में विवाद

खबर - पवन शर्मा 
विवाद के बिच जूनियर नर्सिंग स्टाफ ने कार्य का बहिष्कार कर दिया धरना 
सीएमएचओ खोलिया की समझाहिश के बाद उठाया धरना 
सूरजगढ़ - उपखंड मुख्यालय पर संचालित हो रहे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर कार्यरत कर्मचारियों में ड्यूटी समय के विवाद व भेदभाव को लेकर जूनियर नर्सिंग स्टाफ ने शुक्रवार को कार्य का बहिष्कार करते हुए धरने पर बैठ गए। धरने पर मौजूद महिला कर्मचारियो ने अस्पताल प्रशासन पर भेदभाव बरतने के आरोप लगाते हुए कहा की यहां उनके साथ पूरा भेदभाव बरता जाता है। अपने चहेते कर्मचारियों को तो ड्यूटी में खुली छूट दे रखी है। महिला कर्मचारियों रात्री में अकेले दी जाने वाली ड्यूटी पर आक्रोश जताते हुए नाराजगी प्रकट की। महिला नर्सिंग कर्मियों ने कहा कि उन्हें रात्री में अकेले में ड्यूटी करनी पड़ती है जिनमें उन्हें असुरक्षा रहती है इनकी सुरक्षा के लिए ना तो कोई मेल स्टाफ रहता है और ना ही कोई वार्ड बॉय। ऐसे में  अस्पताल परिसर व उसके आसपास घूमने वाले शराबियो व अन्य असामाजिक तत्वों से उन्हें पूरा खतरा रहता है। ऐसे में एक अकेली महिला इतने बड़े अस्पताल की व्यवस्था कैसे करे वही उसे भी असामजिक तत्वों से पूरा खतरा बना रहता है। महिला कर्मियों ने बताया की उन्होंने अपनी पीड़ा अस्पताल प्रबंधन को बताई लेकिन वो भी उनकी समस्या पर कोई ध्यान नहीं दे रहे है ऐसे में उन्होंने आज मजबूरन कार्य का बहिष्कार कर धरना शुरू कर दिया है। 

मरीजों को हुई परेशानी 
स्टाफ नर्स द्वितीय के कार्य के बहिष्कार कर धरने पर बैठ जाने से अस्पताल में आने वाले मरीजों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। मरीजों को अपनी पर्चियां बनवाने ,जाँच करवाने व अन्य चिकित्सीय कार्यो के लिए काफी दिक्क्तों को सामना करना पड़ा ऐसे में अस्पताल में आये मरीजों के परिजनों व स्टाफ के सदस्यों के बिच बहसबाजी भी हुई। इस दौरान चिकित्सा कर्मी ने कहा की आप अस्पताल प्रभारी से बात करो। इलाज कराने गए मुकेश कुमार ने अस्पताल प्रभारी से फ़ोन पर बात की तो उन्होंने कोई संतोष प्रद जवाब नहीं दिया। 

सीएमएचओ पहुंचे मौके पर 
सामुदयिक स्वास्थ्य केंद्र पर धरने की सूचना पर झुंझुनू सीएमएचओ शुभाष खोलिया भी मौके पर पहुंचे और धरने पर मौजूद नर्सिंग कर्मचारियों से वार्ता कर उनकी समस्याओ की जानकारी ली। झुंझुनू सीएमएचओ सुभाष खोलिया के सामने नर्सिंग कर्मचारियों ने ड्यूटी समय में समानता करने की मांग रखी  जिसके बाद सीएमएचओ खोलिया ने उनकी समस्या का निदान कर ड्यूटी समय में समानता करने के निर्देश सीएचसी प्रशासन को दिए।सीएमएचओ शुभाष खोलिया के आश्वासन के बाद नर्सिंग स्टाफ ने धरना उठा दिया। 

Share This