गिरावड़ी गांव में प्रधानाध्यापक के स्थानांतरण के मामले में विद्यालय 5 दिन से बंद

खबर - विकास कनवा 
उदयपुरवाटी कस्बे के निकटवर्ती गांव की गिरावड़ी में राजकीय माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक तबादला निरस्त कराने की मांग को लेकर पिछले 5 दिन से स्कूल बंद पड़ी है। गांव के लोगों ने बच्चों को पिछले 5 दिन से स्कूल भेजना बंद कर दिया। गांव के लोगों का कहना है प्रधानाध्यापक लीलाधर को वापस लगाया जाने की मांग को लेकर पिछले 5 दिन से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रधानाध्यापक के विद्यालय ज्वाइन करने के बाद  नामांकन में वृद्धि हुई थी। जिसके बाद आज ग्रामीणों ने जिला शिक्षा अधिकारी मुकेश मेहता व उदयपुरवाटी नोडल अधिकारी ताराचंद ने गिरावड़ी स्कूल में ग्रामीणों से वार्ता की वार्ता में ग्रामीणों ने एक ही मांग पर अड़े रहे। जिला शिक्षा अधिकारी की ग्रामीणों से 1 घंटे तक समझाइश चली जिसके बाद वार्ता विफल हो गई। ग्रामीणों ने शनिवार तक का अल्टीमेटम दिया है। ग्रामीणों ने कहा है सोमवार से सभी बच्चों की हम विद्यालय से टीसी लेंगे। सरकारी स्कूल से बच्चों को हटाकर हमें प्राइवेट स्कूल में भेजने पर मंजूर है। ग्रामीणों ने कहा है हमारे गांव में 2 प्राइवेट स्कूलों को बंद करवा कर सभी बच्चों को सरकारी स्कूल में दाखील दिलवाया है। अब हमें मजबूर होकर सभी बच्चों की टीसी कटाकर प्राइवेट विद्यालय में भेजना होगा। इस दौरान सेवानिवृत्त तहसीलदार मंगल सैनी, भानु प्रताप सिंह नांगल, पूर्णमल,कैलाश चंद्र, बाबूलाल,विनोद सिंह,फूलचंद, महेश कुमार, विकास वर्मा ,सुखराम ,रामनिवास, मोहन लाल वर्मा, सीताराम, मुकेश सैनी युवा नेता, सहित अनेक लोग मौजूद थे।

Share This