चिराना,रणवा व् शर्मा में से किसको मिलेगी सीकर की कमान ; या कोई और ?

खबर - अनिल मिंतर 
सीकर - चर्चा है की सीकर जिले का अध्यक्ष बदला जाना है। पार्टी के हर कार्यकर्त्ता को पद की चाहत भी होती है  क्योकि वो पार्टी के लिए समर्पित होता है और सीकर में भाजपा जिलाध्यक्ष  बदले जाने की चर्चा के साथ ही  नेताओ की भाग दौड़ शुरू हो गयी है। सभी नेता अपने आपको उपयुक्त मानते है इस पद के लिए लेकिन मिलना एक को ही होता है।  कुछ पुराने और कुछ नए चहरे भी इस दौड़ में शामिल हो चुके है लेकिन पूर्व युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष व् प्रदेश भाजपा कार्यसमिति पूर्व  सदस्य  बलवंत चिराना , यूआईटी चेयरमैन हरिराम रणवा पूर्व जिलाध्यक्ष महेश शर्मा का नाम काफी चर्चा में है।  कई नए और नाम भी है जो पार्टी के प्रति निष्ठावान है और काम करने की इच्छा भी करते है और कुशल भी है लेकिन इनमें से कई नाम ऐसे हैं जिनका न तो कोई वजूद है और ना ही पार्टी में पकड़ तथा कई चुनाव लड़ने की भी मंशा रखते हैं ऐसे में पार्टी शायद उन नामों पर गंभीरता से विचार नहीं करेगी  । प्रदेश नेतृत्व में मदन लाल सैनी को कमान सौंप कर भाजपा ने गहलोत का तोड़ ढूंढने की कोशिश की है।।तब से लगने लगा कि भाजपा भी जातिगत समीकरणों के सहारे सत्ता की गाड़ी में चढ़ना चाहती है। सीकर में वर्तमान जिलाध्यक्ष मनोज सिंघानिया ने सबको उस वक्त चोंका दिया था जब उनके नाम की घोषणा हुई थी और सिंघानिया उन सभी उम्मीदवारों के आदर्श है जो कम अनुभवी या नए चेहरे है कमोबेश उन सभी के दिल मे एक आशा है कि वो भी ये पद प्राप्त कर सकते है।।लेकिन आने वाला वक्त चुनावी महीनों का है और प्रदेश नेतृत्व कभी भी नही चाहेगा कि नया चेहरा कोई रिस्क पैदा करे।  
डॉ बलवंत चिराना 
शिक्षाविद बलवंत चिराना सौम्य व्यक्तित्व के धनी युवा से लेकर  बुजुर्गो तक में एक अच्छी  पकड़ । जो आज के युवा और जो पार्टी की नीव रखने वाले नेता और कार्यकर्ताओं में एक सामंजस्य बनाने में कुशल है। चिराना नेतृत्व क्षमता पर अच्छी पकड़ रखने वाले चिराना राजनीति में ना सिर्फ अनुभवी है वरन एक साफ सुथरी छवि भी रखते है। चिराना ओम माथुर और प्रदेश अध्यक्ष मदनलाल सैनी के करीबी माने जाते है तो मुख्यमंत्री वसुंधरा को भी उनके नाम पर आपत्ति नही होगी।।
हरिराम रणवा
पूर्व जिलाध्यक्ष हरिराम रणवा जो वर्तमान में यु आई टी अध्यक्ष है एक और प्रबल नाम है लेकिन वो इस पद पर एक बार रह चुके उसके बाद भी उनका जाट होना शायद उनके लिए पॉजिटिव हो जाये। । साथ ही रणवा भी एक कुशल वयक्तित्व के धनी है 
महेश शर्मा
महेश शर्मा भी एक विचारणीय नाम है।। इनके बारे में कहा जाता है कि ये आम आदमी के लिए सहज और सुलभ उपलब्ध होने वाले व्यक्तित्व के धनी है और पार्टी के निष्ठावान सिपाही है। उनकी निष्ठा का पुरुस्कार  प्रदेश नेतृत्व उन्हें जयपुर ग्रमीण का प्रभारी बना कर दे चुका है।

और काफी लोग इस कतार में सब अपनेआप में एक अलग व्यक्तित्व रखते है।  ये तीन नाम जयादा चर्चा में है।  और पार्टी का निर्णय होता है की किसको ये पद दिया जाये। 



Share This