घड़साना में किसानों पर लाठीचार्ज एवं किसानों की गिरफ्तारी की सीपीआई(एम) राज्य कमेटी ने की कड़ी निंदा

खबर - प्रशांत गौड़ 
जयपुर। माकपा की  राज्य कमेटी ने घड़साना में किसानों पर लाठीचार्ज एवं गिरफ्तारी की कठोर शब्दों में निंदा की है। राज्य सचिव कामरेड अमराराम ने बताया कि किसानों की ओर से  नहर में पर्याप्त पानी छोड़े जाने की मांग को लेकर घड़साना की प्रधान रानी दुग्गल गत 4 दिनों से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल की जा रही थी। अचानक शांतिपूर्ण ढंग से अनशन स्थल पर शनिवार को सभा कर रहे किसानों पर पुलिस ने बेवजह लाठीचार्ज किया,जिसमें अनेक लोग घायल हो गए। पूर्व विधायक पवन दुग्गल,जिला परिषद सदस्य विष्णु भाम्भू, किसान सभा नेता मंगा सिंह समेत अनेक किसानों को गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तारी के समय पुलिस ने आंदोलनकारियों के साथ दुव्र्यवहार किया एवं रानी दुग्गल को जबरन पीबीएम अस्पताल बीकानेर में भर्ती करा दिया। सीपीआई(एम) राज्य कमेटी ने सरकार से मांग की है कि सभी गिरफ्तार आंदोलनकारियों को तुरंत रिहा किया जाए और किसानों की मांगों को तुरंत स्वीकार किया जाए तथा दोषी पुलिस अधिकारियों को तुरंत निलंबित करने की मांग की है। राज्य कमेटी सचिव का. अमराराम ने चेतावनी दी है कि यदि  तुरंत कार्रवाई नहीं की गई तो पूरे प्रदेश में सड़कों पर उतर कर इसका करारा जवाब देंगे।सीपीआई(एम) ने वसुंधरा सरकार के याद दिलाया वे पुन: घड़साना आंदोलन को आमंत्रित नहीं करें। सीपीआई(एम) राज्य कमेटी ने इसके खिलाफ प्रदेश में सभी जिला कमेटियों  से विरोध करने का आह्वान किया है।

Share This