पुलिस विभाग बनेगा शहीद परिवारों की जुबान

खबर - जयंत खांखरा 
शहीद परिजनों का किया सम्मान
खेतड़ी  -शहीद वंदन योजना के तहत गुरूवार को थाना परिसर में क्षेत्र के 19 शहीद परिवारों का पुलिस ने सम्मान किया है। एसपी राजेंद्र प्रसाद गोयल की अनुठी पहल पर अब ऐसा लगता है कि पुलिस विभाग शहीद परिवारो की जुबान बन सकेगा। अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक विरेंद्र कुमार मीणा ने बताया कि शहीद परिवारो को अब कोई परेशानी होगी तो पुलिस विभाग विशेष रूप से उनकी बात सुनेगा तथा उनका समाधान करने में मदद भी करेगा। शहीद परिवारों के बच्चों के सामने आने वाली नौकरी की दिक्कत में पुलिस विभाग सारथी बनकर आपसी सांमजस्य बनाएगा। थानाधिकारी विक्रम सिंह राठौड़ ने बताया कि क्षेत्र के कुल 44 शहीद है जिनमे आज 19 शहीद परिवारों का सम्मान किया गया है। ओबीसी मोर्चा के प्रदेश महामंत्री सीताराम वर्मा ने कहा कि देश के लिए अपने प्राण त्याग करने वाली ही शहीद कहलाता है तथा झुंझुनूं जिले के वीरो ने देश की रक्षा के अपने कदम कभी पिछे नही किए कि आज झुंझुनूं सबसे ज्यादा सैनिक देने वाला जिला है। इस दौरान उन्होनें पुलिस की अनूठी पहल की सराहना की है। कार्यक्रम के तहत क्षेत्र के कुड़ी की ढाणी के नायब सुबेदार मदनलाल के साले जगदीश सिंह, पपुरना के राईफलमेन रामसिंह के पोते प्रदीप सिंह, गोरीर के सिपाही संतलाल के पुत्र नरेंद्र सिंह, दलेलपुरा के सिपाही करतार सिंह  के पिता मोहनसिंह,  बंधा की ढाणी के शहीद भगवान सिंह की वीरांगना विजेश देवी, बीलवा के नायब बनवारीलाल की पत्नी सिम्पल देवी, लालोडा के कमांडेट बजरंगलाल मीणा की माता तेजा देवी, फतेहपुरा के नायक मेघराज सिंह की पत्नी विमला देवी, गणेशपुरा के सिपाही अमित कुमार की पत्नी भतेरी देवी, गौरीर निवासी गार्डसमेन हरिसिंह के भाई राजुराम, पपुरना के लांस नायक प्रहलाद सिंह की कस्तुरी देवी, गौरीर के रामसिंह के पुत्र विनय कुमार, कालोटा के सिपाही राजेंद्र कुमार के पिता दूलीचंद, ढोसी के सिपाही शीशराम के पिता रमेश कुमार,  ईलाखर के हवलदार जगदीश प्रसाद की पत्नी शारदा देवी, सेफराग्वार के नायक मनीराम की पत्नी कस्तुरी देवी,ढाणी बारावाली के सिपाही महावीर प्रसाद मीणा की पत्नी कमला देवी, ढाणी धामावाला के धर्मवीर सिंह की पत्नी विजेश देवी, अहीरों की ढाणी के सिपाही राजेंद्र प्रसाद के भतीजे ताराचंद, का सम्मान किया।

Share This