राजनीति का पहला पाठ, हे मतदाता, दण्डवत कर वोटर तुझे प्रणाम

खबर - प्रशांत गौड़ 
छिुटपुट घटनाओं के बीच शांतिपूर्वक मतदा 
-आरयू में करीब 55 फीसदी मतदान
-छात्रों से छात्राएं दिखी आगे 
जयपुर। छात्र संगठनों के चुनाव का महासग्राम शुक्रवार दोपहर 1 बजे तक पूरा हुआ। कई कॉलेजों में मतदान को लेकर उत्साह चरम पर रहा तो आरयू में इस बार वोटिंग प्रतिशत काफी गिरा है। वहीं छिटपुट घटनाओं के बीच मतदान शांतिपूर्वक रहने से पुलिस प्रशासन ने चैन की सांस ली हालांकि इस बार छात्रों ने राजनीति का पहला पाठ  शालीनता पढ़ा। आरयू में छात्र प्रत्याशियों और उनके समर्थकों ने मतदाताओं को दण्डवत प्रणाम कर वोट देने की अपील की।
इस बार प्रशासन की सख्ती रंग लाई और मतदान के दौरान मचने वाला हुडदंग, प्रचार ओर और शोर -शराबा हर बार की तरह नहीं दिखा। मतदान केन्द्रों के आसपास और प्रवेशद्वार पर पुलिस का भारी पहरा होने के कारण आसपास छात्र नेता और उनके समर्थक मंडरा नहीं सके वहीं मतदान केन्द्र तक जाने के लिए छात्रों को त्रिसुरक्षा सिस्टम से होकर निकलना पड़ा इस कारण फर्जी मतदान की संभावना बहुत कम रही। मतदाताओं को लुभाने के लिए छात्र नेता और उनके समर्थक जो कर सकते है उन्होंने करने की कोशिश की। कोई रास्ते में दण्डवत प्रणाम कर वोट मांगता नजर आया तो किसी ने दोनो घुटनों के बल बैठकर वोट देने की अपील की। छात्रों को लुभाने के लिए हर प्रयास हुए जिससे मतदान करने आए छात्र भी उत्साहित दिखे। इस बार आरयू में वोटिंग प्रतिशत करीब 55 फीसदी रहा।
वोटिंग को लेकर सर्वाधिक उत्साह महारानी कॉलेज में दिखा। यहां पर तमाम सख्ती के बावजूद छात्राओं को उत्साह चरम पर था। अपने प्रत्याशी को जीताने के लिए उनके समर्थक ठुमक लगाने में भी पीछे नहीं रहे। वहीं राजस्थान कॉलेज में भी मतदान ने परवान पकड़ा। सुबह 8 बजे जहां वोटिंग कुछ सुस्त थी वहीं सुबह 10 बजते -बजते वोटिंग ने पूरी तरह परवान पकड़ा। वहीं 11 बजे तक मतदान केन्द्रों पर भीड़ दिखी। जयपुर के राजस्थान कॉलेज में मतदान 61.21 प्रतिशत के साथ अच्छा रहा   हालांकि अजमेर, उदयपुर और कोटा में छिटपुट घटनाएं भी सामने आई यहां से हंगामा कर रहे छात्रों को हिरासत में ले लिया गया इस दौरान राजस्थान के दस बड़ी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में करीब 8 लाख स्टूडेंट मतदान करने वाले थे राजधानी जयपुर स्थित राजस्थान यूनिवर्सिटी में करीब 22 हजार 670 स्टूडेंट्स प्रदेश के सबसे बड़े छात्रसंघ के लिए वोट डालने वाले थे लेकिन वोटिंग प्रतिशत आशा अनुसार नहीं रहा।चूरू जिला मुख्यालय के राजकीय लोहिया कॉलेज में मतदान सामान्य रहा यहां पर प्रत्याशी  मतदाताओं के पांव पकड़कर वोट की अपील करते नजर आए ।करीब पचास फीसदी मतदान हुआ। सरवाड़ में एबीवीपी और एनएसयूआई कार्यकतार्ओं  में  झड़प हुई। नगर युवक कांग्रेस अध्यक्ष आशीष जैन ने आवेश में आकर एबीवीपी नेता प्रतीक जैन को  थप्पड़ लगा दिया। थप्पड़ के बाद मौके पर  नारेबाजी शुरू हो गई जिसके बाद पुलिस ने लोगों को हल्का बल प्रयोग कर मौके से खदेड़ा। कोटा के  कॉमर्स कॉलेज के बाहर भी हंगामा हुआ। छात्रसंघ निर्दलीय प्रत्याशी पवन कुशवाहा के समर्थक की जम कर हुई धुनाई हुई। वहीं पुलिस ने भी मौके पर पहुंचकर भीड़ को तितर बितर किया। झालावाड़ के मनोहर थाना कॉलेज में छात्र संगठनों का हंगामा  सामने आया। यहां भी एनएसयूआई और एबीवीपी कार्यकतार्ओं में झड़प हुई। वहीं पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर किया  इसके बाद मौके पर हल्का हंगामा बरपा तो पुलिस को लाठीचार्ज भी करना पड़ा।  कुल मिलाकर पुलिस की इस बार सख्ती के कारण माहौल ज्यादा आक्रोशित नहीं हो पाया। पुलिस ने इस बार चुनाव शांतिपूर्वक कराने के जो इंतजाम किए उस वजह से मतदान केन्द्रों पर वोटर्स शांतिपूर्वक आ सके। वहीं दोपहर 1 बजे के बाद मतदान केन्द्रों पर मतपटियां बंद कर दी गई। वहीं कॉलेज और विश्वविद्यालय के बाहर ताला लगा दिया गया केवल स्टॉफ को ही अंदर जाने के लिए प्रवेश दिया जा रहा है। 

Share This