फार्मासिस्ट ने खोला सरकार के खिलाफ मोर्चा 2 घंटे का किया कार्य बहिष्कार

खबर - जयंत खांखरा 
खेतड़ी -सुबे की भाजपा सरकार के खिलाफ पहले से ही आधा दर्जन से अधिक अलग-अलग विभागों के कर्मचारी कार्य बहिष्कार और हड़ताल पर चल रहे हैं अब चिकित्सा विभाग के कर्मचारियों ने भी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया पहले लैब टेक्नीशियन ने काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन किया फिर एनम ने संयुक्त रूप से हड़ताल की और अब चिकित्सा विभाग की अहम कड़ी जो मरीजों को निरंतर दवा बांटते हैं वह फार्मासिस्ट भी अब 2 घंटे के कार्य बहिष्कार पर उतर आए हैं खेतङी कस्बे के राजकीय अजीत अस्पताल में कार्यरत फार्मासिस्ट महेश अग्रवाल, लक्ष्मी नायक और राधा देवी ने संयुक्त रूप से 2 घंटे का कार्य बहिष्कार किया पूरे अस्पताल में 2 घंटे तक मरीज इधर-उधर घूमते रहे मरीजों ने बताया कि हम लोग सुबह से लाइन लगाकर बैठे हैं लेकिन दवा नहीं मिल रही है इसके कारण काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है दवा वितरण करने वालों की मांगे सरकार क्यों नहीं मांन रही है। फार्मासिस्ट महेश अग्रवाल ने बताया कि कई वर्षों से फार्मासिस्ट का कैडर नहीं बना है। एक फार्मासिस्ट फार्मासिस्ट इसी ओहदे पर ही सेवानिवृत्त हो जाता है, हमारी मुख्य मांगों में ग्रेड पे 4200 भी सम्मिलित है। यदि सरकार हमारी मांगे नहीं मानती है तो आगे हम बड़ा आंदोलन करेंगे।

Share This