दांतारामगढ़ क्षेत्र में जगह जगह होते है नवरात्रों में दुर्गा पूजा महोत्सव पर धार्मिक कार्यक्रम

खबर - प्रदीप कुमार सैनी 
दांतारामगढ़| कस्बे में शारदीय नवरात्रों के दाैरान दुर्गा पूजा महोत्सव पर अनेकाें जगह धार्मिक कार्यक्रमाें का अायाेजन हाेता हैं। दांता के श्री खेडा़पति बालाजी धाम के 20वे सार्वजनिक दुर्गा पूजा महोत्सव में दिन प्रतिदिन श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा रहा हैं। संध्या आरती के पश्चात प्रतिदिन नन्हे-मुन्ने बच्चों, युवाओं व कलाकारों द्वारा धार्मिकता से ओत प्रोत सांस्कतिक रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाते हैं। सोमवार रात्रि काे जादूगर सम्राट मुकेश प्रजापति द्वारा काले कपड़े से राष्ट्रध्वज तिरंगा बनाया गया। साथ ही खाली फोटो फ्रेम में भगवान श्रीगणेश का फोटो बनाना, कबूतर की फोटो से असली कबूतर बनाना अादि हैरतअंगेज करतब दिखाए गए। खाली िडब्बे में से रंग बिरगें कागज के फूल बनाना, ताश की पत्तियों व पेप्सी की बाटल को गायब करना, मोमबत्ती का फूल बनाना, कटी रस्सी को जोडना, खाली काॅपी में रंगीन फोटो दिखाने का अद्भुत जादू दिखाया। अन्य कलाकारों द्वारा भगवान शिव का तांडव नृत्य व भगवान श्रीकृष्ण राधा का रासनृत्य दिखाया गया। श्री खेडा़पति बालाजी दुर्गा पूजा समिति के कानाराम सैनी व रूपेश कुमार ने बताया कि दांतारामगढ़ क्षेत्र में सबसे पहले दुर्गा पूजा की शुरुआत श्री खेडा़पति बालाजी मंदिर में बीस साल पहले हुई थी जिसकी पूजा अर्चना मंदिर के महंत रमाप्रकाश शर्मा करते हैं। इसके अलावा दांता में ठा.मदनसिंह मार्केट, भारीजा, भौरडों का बास, रामगढ़ में बाबा बालीनाथ व भूरी माता के मंदिर में भी दुर्गा पूजा महोत्सव पर प्रतिदिन धार्मिक कार्यक्रम होते हैं।

Share This