राष्ट्रीय समूहगान प्रतियोगिता में गूंज उठे देश भक्ति के तराने

खबर - जयनारायण बिस्सा 
बीकानेर। भारत विकास परिषद नगर इकाई की ओर से टी  एम ऑडिटोरियम में प्रान्त स्तरीय राष्ट्रीय समूहगान प्रतियोगिता  का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में 12 टीमों ने हिन्दी व  संस्कृत भाषा में देश भक्ति से ओतप्रोत एक से बढ़कर एक  प्रस्तुति देकर दर्शकों का मन मोह लिया। देश भक्ति गीतों से  सरोबार इस प्रतियोगिता ने पूरे सभागार को राष्ट्रीयता से  ओतप्रोत कर दिया। मंच पर एक के बाद एक प्रस्तुति में  प्रतिभागियों ने अपने दावे को ऊपर रखने में कोई कसर नहीं  छोड़ी, लेकिन आखिर में देशभक्ति ने सबको पीछे छोड़ दिया।  संगीत की शैलियों में आलाप, आकार और सरगम का भी  मिश्रण देखने को मिला। कार्यक्रम की शुरूआत मां सरस्वती,  भारत माता, स्वामी विवेकानन्द की प्रतिमा के सामने दीप  प्रज्ज्वलन द्वारा की गई, तत्पश्चात वन्देमातरम गीत द्वारा मां  भारती को नमन किया गया। मुख्य अतिथि संवित सोमगिरी  जी महाराज ने भारतीय संस्कृति को अक्षुण्ण रखने के लिये  भाविप को साधूवाद दिया। उन्होंने कहा कि प्रतियोगिता तो  आजकल एक प्रचलन है। किन्तु इसमें किसी प्रतिभागी से कि सी की तुलना नहीं होनी चाहिये। इस अवसर पर प्रान्तीय  अध्यक्ष विनोद आढ़ा,केन्द्रीय पर्यवेक्षक व रीजनल मंत्री  सूर्यप्रकाश बाघला,प्रान्तीय महासचिव विनोद सैन,कार्यक्रम  अध्यक्ष डॉ त्रिभुवन शर्मा,उमेश मैंदीरता ने विचार रखे। कार्यक्र म में अतिथियों ने हरिकिशन मोदी व प्रदीप सिंह चौहान की  सम्पादित परिषद की स्मारिका स्वर गंगा का विमोचन भी कि या। कार्यक्रम का संचालन सुहानी शर्मा व श्रीमति आभा ने  किया।
ये रहे विजेता 
आयोजक डॉ बी के बेनीवाल ने बताया कि ने बताया कि  प्रतियोगिता में प्रतिभागियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।  जिनकी प्रस्तुति के आधार पर निर्णायक हेमन्त भट्ट,निलय व  अनिता सिंह ने बीकानेर इकाई की सेठ तोलाराम बाफना एकेडमी की टीम को पहला,नागौर की टीम को दूसरा व संगरिया  की टीम को तीसरा स्थान प्रदान किया गया। जिनको प्रान्तीय  अध्यक्ष विनोद आढ़ा,केन्द्रीय पर्यवेक्षक व रीजनल मंत्री  सूर्यप्रकाश बाघला,प्रान्तीय महासचिव विनोद सैन,कार्यक्रम  अध्यक्ष डॉ त्रिभुवन शर्मा ने पुरस्कृत किया। 

Share This