मंत्रीमंडल की कवायद तेज -गहलोत से मिलने लगे विधायक !

खबर - प्रशांत गौड़ 
तो सूरत भी होने लगी तय कि कोन होंगे गहलोत के नवरत्न
जयपुर। प्रदेश में मंत्रीमंडल का गठन होने में अब 48 घंटे से भी कम का समय शेष है। जननायक माने जाने वाले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के मंत्रीमंडल ऐसे कोनसे चेहरे होंगे जो उनकी गांधीवादी छवि और कार्य करने के तरीकों को अंगीकर सरकार को आगे चलाने में अपनी महती भूमिका निभाएंगे इसको लेकर कवायद तेज हो चुकी है। अशोक गहलोत से उनके निवास पर मिलने आने वाले तुर्जेबकार विधायकों को देखकर भी लग रहा है कि गहलोत अनुभवी को प्रथम वरीयता देंगे तो युवा जोश को भी साथ लेकर चलेंगे।
गहलोत ने पायलट को डिप्टी सीएम बनाए जाने के बाद अपने साथ ही रखा तो यह महसूस नहीं होने दिया कि पायलट और वह अलग-अलग राह पर है। पायलट को पूरा महत्व दिया है। अब जब मंत्रीमंडल तय हो रहा है तो माना जा रहा है कि गहलोत के मंत्रीमंडल में अनुभवी, जनछवि वाले चेहरें शुमार होंगे। 
राजस्थान में 200 सीटों वाली विधानसभा की 199 सीटों पर अब कांग्रेस 120 विधायकों के समर्थन के साथ सरकार बनाने जा रही है। ऐसे में उनके साथ कुछ खास मंत्री शपथ ग्रहण करेंगे जिनमें उनके सबसे खास  बी डी कल्ला का नाम सबसे आगे है। कल्ला को गहलोत का खास सिपहसालार माना जाता रहा है। वह गहलोत के अच्छे-बुरे दिन सब में उनके साथ रहे है। इसके बाद महेश जोशी, लालचंद कटारिया, बृजेन्द्र ओला, परसराम मोरदिया, शांति धारीवाल का नाम आता है।
यह होंगे संभावित केबिनेट मंत्री, जो गहलोत साथ इसी बार ही शपथ ले सकते है।
 1. शांति धारीवाल 
2. बी डी कल्ला
3.परसराम मोरदिया
4.महेश जोशी 
5.लालचंद कटारिया
6.राजकुमार शर्मा
7. जाहिदा खान
8.प्रमोद जैन भाया
9.संयम लोढ़ा 
10.सी पी जोशी 
11. विश्वेन्द्र सिंह 
12.दीपेन्द्र सिंह शेखावत 
13.डॉ जितेन्द्र सिंह 


-पायलट कैंप के चेहरों की चर्चा
पहले चरण में पायलट समर्थक 5 चेहरों पर चर्चा है जिनमें मा. भंवरलाल मेघवाल, शंकुतला रावत, प्रतापसिंह खाचरियावास,रधु शर्मा और कुछ युवा विधायकों के नाम चर्चा में है। वहीं माना यह भी जा रहा है कि पायलट खेमे से आने वाले बृजेन्द्र ओला की पत्नी को सांसद का चुनाव लड़ाया जा सकता है इस कारण उनको मंत्रीमंडल में जगह नहीं मिल पाए।

Share This