मेनार तालाब पर राजहंसों का डेरा

विश्व में सर्वाधिक ऊॅंचाई पर उड़ान भरने वाला आकर्षक पक्षी है बार हेडेड गूज़
उदयपुर-जिले में बर्डविलेज के नाम से ख्यात मेनार के तालाब में इन दिनों हजारों की संख्या में बार हेडेड गूज़ डेरा डाले हुए है। सफेद रंग का बहुत ही सुंदर पक्षी बार हेडेड गूज को राजहंस, सवन अथवा बिरवा के नाम से जाना जाता है। इसके सिर पर काले रंग की धारियां (बार) होती है इसलिए इसे बार हेडेड गूज कहा जाता है। पक्षी विशेषज्ञ विनय दवे बताते हैं कि यह प्रवासी पक्षी है और मेवाड़़ अंचल के जलाशयों में हिमालय पार, लद्दाख एवं तिब्बत से शीतकाल बिताने के लिए आता है। इसके खून के हीमोग्लोबिन में एक विशेष एमीनो एसिड होने के कारण काफी ठंडे स्थानों पर रहने के लिए इनका शरीर उपयुक्त है। बार हेडेड गूज दुनिया में सर्वाधिक ऊॅंचाई पर उड़ने वाले पक्षियों में से एक है। यह हिमालय पार से उड़कर बगैर रूके 8 हजार मीटर से अधिक ऊंचाई वाले पहाडों के उपर से गुजरते हुए भारत में आते हैं। इसकी गर्दन और चाल बेहद आकर्षक होती है और यह पक्षी समूह में वी आकृति में उड़ान भरते हैं। सबसे आश्चर्यजनक तथ्य यह भी है कि यह पक्षी एक बार में लगातार आठ घंटे बिना रुके उड़ सकते हैं। मेनार तालाब में जलक्रीड़ा करते और आकर्षक उड़ान भरते बार हेडेड गूज़ के फोटो को बांसवाड़ा के जनसंपर्क उपनिदेशक व वाईल्ड लाईफ फोटोग्राफर कमलेश शर्मा ने बुधवार को क्लिक किया है।


Share This