मंत्रीमंडल विस्तार में नया पेंच, एक और विस्तार की अटकले

खबर - प्रशांत गौड़ 
जयपुर। मंत्रीमंडल की एक और विस्तार की अटकलों ने जहां उन दिग्गज चेहरों पर मुस्कान ला दी है जिनका प्रथम मंत्रीमंडल शपथ ग्रहण में नाम नहीं आया था तो दूसरी तरफ अभी उन मंत्रियों के पसीने ला दिए जो अभी तक महत्वपूर्ण मंत्रालय उनीकी झोली में जाना तय मान रहे थे। अब माना जा रहा है कि कई अहम विभाग वर्तमान बने मंत्रियों को पोर्टफोलिया बांटने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के पास ही रहेंगे।
उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बयान दिया है कि अभी मंत्रीमंडल का जल्द ही एक और विस्तार होगा। माना जा रहा है कि पायलट खेमे के कुछ नाम रहने के कारण उनको मायूसी है तो गहलोत खेमे के माने जाने वाले कई बड़े नाम जगह नहीं बना पाए है अब इन दिग्गज नामों को पायलट के बयान से डूबती नैया को तिनके का सहारा मिला है।
यह विधायक रहे मंत्री बनने से वंचित
परसराम मोरदिया, सीपी जोशी,राजेन्द्र पारीक, बृजेन्द्र ओला, राजकुमार शर्मा, भंवरलाल शर्मा, महेश जोशी, रुपाराम धनदे, शकुतंला रावत, , दीपेन्द्र सिंह शेखावत,कृष्णा पुनिया,जाहिदा खान सहित कई नाम दौड़ से बाहर चले गए।
कुछ विभागों का नहीं होगा वितरण
 माना जा रहा है कि अभी कुछ अहम विभाग मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पास ही रहेंगे। इनका वितरण आगामी मंत्रीमंडल विस्तार पर हो पाएगा। ऐसे में एक दर्जन विभागों सीएम ही अपने पास रखेंगे।
दिल्ली जाना स्थगित
 माना जा रहा है कि अशोक गहलोत और सचिन पालयट का दिल्ली जाने का कार्यक्रम निरस्त हो गया है। प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे की किसी ओर कार्यक्रम में व्यस्त होने के कारण यह मुलाकात नहीं हो पाएगी। माना जा रहा है कि दिल्ली से हरीझंडी मिलने के बाद ही मंत्रीमंडल में विभागों के वितरण पर ठप्पा लग पाएगा।

Share This