उदयपुरवाटी अस्पताल में समय पर नहीं पहुंच रहे हैं डॉक्टर मरीजों को करना पड़ रहा है घंटा इंतजार

खबर - विकास कनवा 
उदयपुरवाटी अस्पताल की ओपीडी में देर से आना डॉक्टरों की आदत में शुमार हो गया है।यहां भले मरीज घंटों इंतजार किया करें लेकिन यहां के डॉक्टरों का समय इनके हिसाब से ही चलता है। अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधाओं के ढेर को संवारने के लिए जिम्मेदार कितनी भी कोशिश कर ले लेकिन व्यवस्था सुधरने का नाम नहीं ले रही है। जिम्मेदारों की लापरवाही के कारण अस्पताल की ओपीडी कई बार सुननी पड़ी रहती है मरीज डॉक्टरों के इंतजार में घंटों बैठे रहते हैं उदयपुरवाटी अस्पताल में दूरदराज से मरीज अपना उपचार कराने के लिए आता है लेकिन दूरदराज से चलकर आने पर आने वाले मरीजों को सुबह 8:00 बजे से लेकर 9:00 बजे 9:30 बजे तक डॉ नहीं आते हैं जिसके चलते हैं काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।समय पर डॉक्टरों नहीं आने के कारण उदयपुरवाटी कस्बे सहित आसपास के लोग मजबूर होकर निजी अस्पतालों में दिखाने पर मजबूर हो रहे हैं।इतना ही नहीं सरकारी अस्पताल के ज्यादातर चिकित्सक अस्पताल में इलाज ना करते हुए निजी प्रैक्टिस स्तर पर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं। ज्यादातर डॉक्टरों ने शहर में कई स्थानों पर अपने क्लीनिक खोल रखे हैं वहां तगड़ी फीस वसूल कर इलाज कर रहे हैं। ऐसे में निशुल्क चिकित्सा सुविधा लोगों तक कैसे पहुंचेगी यह बड़ा सवाल है। सरकार भले ही लोगों को सुविधा देने के लिए तमाम कोशिश कर ले लेकिन निचले स्तर पर हालात बहुत खराब है। इसको लेकर सरकार भी कोई गंभीर नजर नहीं आ रही जिसके चलते आए दिन सैकड़ों मरीजों को अस्पताल में घंटों इंतजार करने के बाद निराश होकर निजी क्लिनिक को पर जाना पड़ रहा है जिसमें गरीब मरीज हजारों रुपए की फीस वसूलने वाले डॉक्टर के शिकार हो रहे हैं। अब देखना यह है आखिर सरकार कब गंभीरता दिखाती है।  

Share This