बच्चों के जहन में सवाल पैदा करें, बाकी काम सवाल खुद कर लेगा - कुमार अजय

चूरू। राजस्थान शिक्षक संघ (शेखावत) का 58 वां जिला सम्मेलन जिला मुख्यालय स्थित पेंशनर भवन में शुक्रवार सवेरे शुरू हुआ।  जिलाध्यक्ष बनवारी लाल कुल्हरी की अध्यक्षता में आयोजित उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता युवा लेखक एवं पीआरओ कुमार अजय ने कहा कि वर्तमान में देश जिस सामाजिक-सांस्कृतिक परिदृश्य से जूझ रहा है, उसे देखते हुए शिक्षकों पर ही यह जिम्मेदारी है कि वे देश की नई पीढ़ी को लोकतांत्रिक संस्कार दें और उन्हें अधिक से अधिक तार्किक बनाएं। उन्होंने कहा कि शिक्षक बच्चों के जहन में सवाल पैदा करें। सवाल स्वयं ही अपने जवाब ढूंढ लेगा। विद्यार्थियों को अंधविश्वासों से दूर करें और जिज्ञासु प्रवृत्ति विकसित करें। मुख्य वक्ता वरिष्ठ विधि अधिकारी महेंद्र सैनी ने छोटी-छोटी बातों के जरिए स्कूल में किए जा सकने वाले कार्यों के बारे में बताया और कहा कि देश व समाज के प्रति विद्यार्थियों को जागरुक करना शिक्षक की बड़ी जिम्मेदारी है। मुख्य वक्ता लोहिया कॉलेज में एशोसिएट प्रोफेसर डॉ जेबी खान ने सभी शिक्षकों से कहा कि वे विद्यार्थियों में पर्यावरण व प्रकृति के प्रति एक चेतना जागृत करें। उन्होंने खुशी जताई कि चूरू से शुरू हुई नो व्हीकल डे की मुहिम आज पूरे राजस्थान में फैल रही है। शिक्षकों को यहां से प्रण लेकर जाना चाहिए कि वे अपनी स्कूलों में कोई न कोई नवाचार जरूर करेंगे। मुख्य अतिथि पेंशनर समाज के अध्यक्ष मोहन लाल शर्मा ने कहा कि शिक्षक अपने काम से समाज में अद्वितीय सम्मान प्राप्त कर सकता है। समसा के परियोजना अधिकारी विजय पाल धुंआ ने कहा कि शिक्षकों को शिक्षा में नवाचार कर विद्यार्थियों एवं समाज को लाभान्वित करना चाहिए। प्रदेश महामंत्री आरिफ खान ने संगठन की संगठनात्मक एवं आंदोलनात्मक गतिविधियों एवं संगठन के मांगपत्र पर चर्चा की। प्रदेश उपाध्यक्ष त्रिलोक कीलका ने शिक्षकों को अपने अधिकारों के प्रति सचेत रहकर दायित्व निर्वहन की बात कही। जिला मंत्री ने साल भर का लेखा-जोखा प्रस्तुत किया। कमल रक्षक ने स्वागत उद्बोधन दिया। प्रदेश संयुक्त मंत्री बजरंग लाल शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष पवन मीणा ने भी विचार व्यक्त किए। संचालन सोमेश शर्मा ने किया। संगठन के मुबारिक खान, कमल रक्षक, नागरमल गिनारिया, महेंद्र फिड़ौदा, पवन महर्षि, उम्मेद सिंह, असलम खान, धर्मेंद्र बुडानिया, अजय गोदारा, अयूब खान आदि ने अतिथियों का स्वागत किया।




Share This