आंदोलन में 27 दिनों से डटे है दांतारामगढ़ के किसान



खबर - प्रदीप कुमार सैनी 

दांतारामगढ़ (सीकर)। किसान आंदोलन में 12 दिसंबर से दांतारामगढ़ के व सीकर जिले के किसान आंदोलन कर रहे हैं। आये दिन किसान आंदोलन में जा रहे हैं। दांतारामगढ़ के दूधवा निवासी  अखिल भारतीय किसान सभा राज्य उपाध्यक्ष हरफूल सिंह ने बताया कि जयपुर नेशनल हाईवे शाहजहांपुर में किसान आंदोलन में शुक्रवार को गुजरात से भारी संख्या में किसान आए। शनिवार  को जम्मू कश्मीर के किसान आएंगे और उसके बाद में केरला के किसान आएंगे।

शाहजहांपुर बॉर्डर पर लगभग 4 किलोमीटर तक किसानों के तम्बू, टेंट, गाडियां, ट्रैक्टर और किसान साथियों का जमावड़ा फैल चुका हैं। कल के दिन शाहजहांपुर बॉर्डर पर क्रमिक अनशन पर महाराष्ट्र की वह महिला किसान बैठी जिन्होंने अपने पति को खो दिया। सरकारों की नीतियों की वजह से वे जहर खाकर शहीद हो गए। ये महिला 1 हजार किलोमीटर चलकर संघर्ष में आई। आज 24 घण्टे अनशन पर बैठी हैं। इनके संघर्ष को हम ह्दय से सलाम करते हैं। 6 जनवरी को बॉर्डर पर सीकर जिले से तकरीबन 100 ट्रैक्टर अपने राशन पानी के साथ पहुंचे।


Share This