6 वे दिन भी कर्मचारियों का धरना जारी, कर्मचारियों के जूनून, हौसला में नहीं आई कमी

खबर - प्रशांत गौड़ 
-पीएफ में फर्जीवाड़ा नहीं होने देंगे- गौड़
-मोदी सरकार मजदूर विरोधी - आशा शर्मा
जयपुर ।   नेशनल हैंडलूम, वैशाली नगर में रविवार को 16 वे दिन भी कर्मचारी यूनियन सीटू का यहां के कर्मचारियों की विभिन्न मांगों को लेकर धरना जारी रहा। कर्मचारी यहां पर पीएफ की मांग, कर्मचारियों के स्थान्नतरण का विरोध सहित एक दर्जन मांगों को लेकर लगातार विरोध प्रदर्शन कर रहे है। धरने को दिल्ली से आई जनवाहदी महिला स िमति की राष्ट्रीय नेता आशा शर्मा ने भी संबोधित किया।  सीटू नेता विजय बहादुर गौड़ ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि कर्मचारियों की जायज मांगों पर प्रशासन पिछले 16 दिन से अडियल रैवया अपनाये हुआ है। पीएफ में फजीवाड़ा कर कर्मचारियों को उनका हक पर डाका डाला जा रहा है। कर्मचारियों ने पे स्लिप पर वेतन दिए जाने सहित एक दर्जन जायज मांगों नहीं मानकर नेशनल हैंडलूम प्रबंधन लगातार अपनी हठधर्मिता का परिचय दे रहा  है। उन्होंने कहा कि विश्व मई दिवस पर कर्मचारी यहां पर अपनी एकजुटता का परिचय ध्वजारोहण कर देंगे। धरने को माकपा की जिला सचिव कॉमरेड सुमित्रा चौपड़ा ने भी संबोधित किया। 
 धरने में कर्मचारियों  का हौसला बढ़ाने के लिए दिल्ली से आई जनवादी महिला समिति की नेता और राष्ट्रीय नेता कामरेड आशा शर्मा ने कहा कि मोदी सरकार के आने के काद छोटे कर्मचारियों और मजदूरों पर अत्याचार बढ़े है।  धरने को जिला महामंत्री कामरेड भंवर सिंह शेखावत ने कहा कि एक तरफ केन्द्र सरकार जीएसटी जैसे सख्त प्रावधान बनाकर दावा कर रही है कि हर कर्मचारी के भविष्य की रक्षा सरकार की नीतियों से हो रही है दूसरी तरफ पूरे देशभर के कामागार, मजदूर सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों के कारण उनकी छंटनी हो रही है और वेतन तक समय पर नहीं मिल रहा है।  नेताओं ने कहा कि यदि मजदूरों की मांगों को लेकर प्रशासन की हठधर्मिता बनी रही है तो उनकी मांगों को मनवाने के लिए कर्मचारियों को सड़क पर आना पड़ा तो उससे भी पीछे नहीं हटेंगे। नेशनल हैंडलूम के सयुक्त मंत्री सीताराम शर्मा ने  कहा कि मजदूर की एकजुटता में कोई कमी नहीं आएगी। मजदूर कठोर से कठोर संघर्ष करने को तैयार है लेकिन अपनी मांगों से पीछा नहीं हटेंगा।

Share This