पानी की समस्या से जूझ रहे ग्रामीणों ने चंवरा ग्राम पंचायत में जमकर विरोध प्रदर्शन के बाद फोड़े मटके

खबर - विकास कनवा 
ग्रामीणों ने सड़क पर मटका फोड़ किया विरोध प्रदर्शन
पिछले ढाई माह से घरो में पानी की बूंद नही दूसरे गाँवो से ला रहे पानी
उदयपुरवाटी। क्षेत्र के चंवरा ग्राम पंचायत मे पिछले ढाई महीने से  टँकियो में पानी नही आने के कारण आग बबूला हो कर महिलाओं ने सड़कों पर मटका फोड़ विरोध प्रदर्शन किया। दलित समाज के युवा नेता सुरेश मीणा किशोरपुरा के नेतृत्व में ग्रामीणों ने
चँवरा सड़क के मुख्य स्टेण्ड मोरिंडा पर बैठकर धरना देकर पीएचडी विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की बाद में महिलाओं ने सड़क के बीच खाली मटके फोड़ कर विरोध जताया। सुरेश मीणा किशोरपुरा ने बताया कि मोरिंडा स्थित दलित बस्ती में करीब 250 लोगो के बीच दो पेयजल के स्रोत है, जो ढाई महीने से सूखे पड़े है। ऐसे में यहां के वासिंदे इस गर्मी और तपती धूप में दूसरे गांवो से पानी लाने के लिए मजबूर है। उन्होंने कहा कि सरकार गर्मी को देखते हुए पेयजल समस्या से निजात दिलाने की लिए गम्भीर है।वहीं दूसरी और जगह-जगह पेयजल आपूर्ति के लिए टेंकर भी शुरू कर दिए गए है। लेकिन विडम्बना देखिए की यहां पर किसी भी तरह से इन लोगो को पेयजल मुहैया नही करवाया जा रहा। ग्रामीणों ने बताया कि पानी के लिए विरोध करते हैं तो सरपंच के द्वारा धमकियां दी जाती है खराब पड़ी ग्राम पंचायत की मोटर को सही कराने के लिए ग्रामीणों से पैसे मांगता है मांगने जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं। लोगों ने कहा इस समय रहते हुए प्रशासन हमारी मांगों ध्यान दें अन्यथा उपखंड कार्यालय के बाहर भी धरना प्रदर्शन करना पड़ सकता है इसदौरान,रामस्वरूप,अशोक, विक्रम ,कमलादेवी, विमलादेवी ,विजयकांता देवी ,बनारसी देवी,
सरोज देवी मंजू देवी ललिता देवी संजू देवी,कमला देवी,विमला, सुनीता देवी ,श्यामा देवी, मीश्रा देवी, शंकर ,अंची देवी,पवन,शनी, शंकर,विक्रम,सुनील,अनिल, विजेन्द्र,रोहित,कर्मवीर,सुनील, मदन,महेंद्र,जगदीश प्रसाद,जयपाल,दीपक,लक्ष्मण, कुलदीप,संदीप,रवि,रामवतार, पूजा,मनजीत,सरिता देवी,मुकेश,प्रकाश बालावाली सहित बड़ी संख्या में महिला पुरुष मौजूद थे।

Share This