यूआईटी के पूर्व अध्यक्ष शर्मा बने कांग्रेस के जिलाध्यक्ष

खबर - पंकज पोरवाल 
भीलवाड़ा । नगर विकास न्यास के पूर्व अध्यक्ष रामपाल शर्मा को जिला कांग्रेस का जिलाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। एआईसीसी के राष्ट्रीय महासचिव अशोक गहलोत ने शनिवार देर रात राजस्थान के आठ जिलों में नए जिलाध्यक्षों को घोषणा की, जिसमें भीलवाड़ा से पूर्व केंद्रीय मंत्री एंव जिले के पुर्व सांसद रहे डा.ॅ सीपी जोशी के नजदीकी रामपाल शर्मा को जिले की कमान सौपी गई है। इसके साथ शर्मा के समर्थकों, शुभचिंतको व पार्टी कार्यकताओ में खुशी की लहर फैल गई। इनसे पुर्व 2011 से जिले की कमान अनिल डांगी के पास थी। जिलाध्यक्ष नियुक्त होने के बाद शर्मा ने कहा कि संगठन को मजबूत बनाएंगे। सभी नेताओं को एकजुट करके इस साल होने वाले चुनाव में जीत हासिल करना ही एकमात्र लक्ष्य है। जिलाध्यक्ष के नए नाम की घोषणा होते ही बधाई देने के लिए बड़ी संख्या में कार्यकर्ता व पदाधिकारी उनके निवास पर पहुंचे। इनमें पूर्व जिलाध्यक्ष कैलाश व्यास, नगर परिषद नेता प्रतिपक्ष समदु देवी, ब्लॉक कार्यकारी अध्यक्ष शिव राम खटीक, महेश सोनी, रामप्रसाद धाभाई, दिलीप गुर्जर, प्रदेश महासचिव महिला कांगेस इन्द्रा सोनी, कांगेस जिलाध्यक्ष रेखा हिरण, पुर्व जिला प्रमुख सुशीला सालवी, सारिका सेठ, पुर्व पार्षद उस्मान पठान एवं हेमराज आचार्य सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

90 के दशक से सक्रिय

50 वर्षीय शर्मा कांग्रेस में नब्बे के दशक से सक्रिय हैं। वे वर्ष 1991 से 2000 तक जिला यूथ कांगेस अध्यक्ष रहे। पूर्व जिला अध्यक्ष भंवरलाल जोशी के कार्यकाल में 2000 से 2005 तक कार्यकारी अध्यक्ष रहे। वर्ष 2009 से 2011 तक सेंट्रल कॉपरेटिव बैंक के अध्यक्ष रहे। यूआईटी अध्यक्ष नियुक्त किए जाने पर बैंक का कार्यभार उपाध्यक्ष भंवरू खां को सौंप दिया। वर्ष 2013 तक न्यास अध्यक्ष रहे। पिछला विधानसभा चुनाव मांडल से हारे। शर्मा प्रदेश कमेटी में वर्ष 1999 से 2018 तक सदस्य रहे। गत वर्ष जिला क्रिकेट संघ अध्यक्ष चुने गए और अभी आईपीएल में वेन्यू मैनजर हंै। पत्नी मोना भी 2011 से 2015 तक कांफेड चेयरपर्सन रही।

Share This