काँग्रेस मटके फोड़ने के बजाय अपने पापों का प्रायश्चित करें - प्रभुलाल सैनी

जयपुर । भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय में प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने कहा कि काँग्रेस ने जनता की दशा को सभी क्षेत्रों में बिगाड़ा है और दुर्भाग्यपूर्ण है कि अब मटके फोड़ कर धरने-प्रदर्शन का नाटक कर रही है। ज्यादा अच्छा होता काँग्रेस आमजनता के लिए, पशु-पक्षियों के लिए पानी की प्याऊ एवं परिण्डे लगाती। काँग्रेस को मटके फोड़ने की बजाय अपने पापों का प्रायश्चित करना चाहिए। जबकि सरकार आमजन को पेयजल उपलब्ध कराने में किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरत रही है।

काँग्रेस पानी का उपहास ना करें, भाजपा सरकार ने पेयजल 
मामले में काँग्रेस से ज्यादा कार्य किया - प्रभुलाल सैनी
कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने कहा कि राजस्थान भौगोलिक दृष्टि से देश का सबसे बड़ा राज्य है। लेकिन प्रदेश में सतही जल देश में उपलब्धता का मात्र 1.16 प्रतिशत ही है। प्रदेश में 295 ब्लाॅक है, जिसमें से 50 ब्लाॅक मात्र सुरक्षित श्रेणी में है। 38 ब्लाॅक सेमीक्रिटिकल, 10 ब्लाॅक क्रिटिकल, 194 ब्लाॅक एक्सप्लाॅयटेड़, 4 ब्लाॅक खारे पानी के है। ऐसी प्राकृतिक समस्या के रहते काँग्रेस पानी के नाम पर राजनीति कर रही है, काँग्रेस पानी का उपहास कर रही है। संविधान के अनुच्छेद 21 में प्रत्येक नागरिक को शुद्ध पेयजल देने की जिम्मेदारी सरकार की है, जो भाजपा की सरकार पूरी जिम्मेदारी से पानी की कमी को दूर कर रही है। काँग्रेस की सरकार ने 2008 से 2013 तक सम्पूर्ण पेयजल योजना में मात्र 12 हजार 225 करोड़ रूपये व्यय किया था, जबकि भाजपा सरकार ने सम्पूर्ण पेयजल योजना में 20 हजार करोड़ रूपये का व्यय किया जो संविधान की मंशा से ही सकारात्मक रूप से किया है। वृहद् परियोजना में 5 साल के कार्यकाल में काँग्रेस ने मात्र 2 हजार 775 गाँवों एवं ढ़ाणियों को शुद्ध पेयजल की आपूर्ति की। जबकि मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे के नेतृत्व में 4 साल में ही 6 हजार 994 गाँवों एवं ढ़ाणियों को पेयजल का लाभ पहुँचाया है।



Share This