चौधरी चरण सिंह जीवन पर्यंत किसान मजदूर दलित एवं गरीब के साथ संघर्ष करते रहे

खबर - अनिल मिंतर 
सीकर - अखिल भारतवर्षीय जाट महासभा सीकर एवं चौधरी चरण सिंह ग्रामीण विकास केंद्र सीकर के संयुक्त तत्वाधान में जाट बोर्डिंग हाउस सीकर में  चौधरी चरण सिंह की पुण्यतिथि मनाई गई | अखिल भारतवर्षीय   जाट महासभा सीकर इकाई के प्रवक्ता बीएल मील ने बताया कि इस अवसर पर आयोजित विचार गोष्ठी की अध्यक्षता पूर्व विधायक रणमल सिंह ने की | उपस्थित वक्ताओं ने कहां की चौधरी चरण सिंह जीवनपर्यंत किसान मजदूर दलित एवं गरीब के साथ संघर्ष करते रहे तथा किसानों की आवाज बुलंद करने वाले प्रखर नेता थे| उनका मानना था कि देश की खुशहाली का रास्ता खेत-खलिहानों से होकर गुजरता है | चौधरी चरण सिंह  देश की प्रगति के लिए किसानों की आर्थिक स्थिति ठीक  होना आवश्यक मानते थे | वे कहते थे कि जब तक किसानों की दशा नहीं सुधरेगी देश आगे नहीं बढ़ पाएगा |  चौधरी चरण सिंह की विचारधारा ही किसानों के वाजिब हक दिला सकती है | वक्ताओं ने चौधरी चरण सिंह के आदर्शों  पर चलकर जीवन में आत्मसात करने का आह्वान किया |  जाट महासभा के जिलाध्यक्ष रतन सिंह पिलानिया ने बताया कि   विचार गोष्ठी में उठी 11 सूत्री  किसान अधिकार मांग पत्र जिला कलेक्टर सीकर के माध्यम से प्रधानमंत्री को भेजा गया |   विचार गोष्ठी में प्रोफेसर जवाहर सिंह जाखड़, अनंतराम पिलानिया ,प्रोफेसर शिवनाथ सिंह, रतन सिंह पिलानिया, घासीराम बगड़िया , शहाबुद्दीन  गौड़ , प्रहलाद पारीक, महावीर पुरोहित, भागीरथ नायक, गोवर्धन गोदारा, सुरेंद्र महण, रामेश्वर सिंह ,इंजीनियर दिनेश जाखड़ ,महेश जाखड़ ,इंजीनियर हरलाल सिंह सुन्डा, हरदयाल सिंह रेवाड़ ,लिखमाराम ,सांवरमल, बनवारी लाल नेहरा, रिछपाल तेतरवाल, अजय महला ,पोकरमल रुहेला, नारायण मुंड ,जगराम कुड़ी, यशवंत सिंह सामोता ,अमर सिंह एडवोकेट सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे कार्यक्रम का संचालन एडवोकेट चौधरी पोकर मल  ने किया एवं चौधरी चरण सिंह ग्रामीण विकास केंद्र के अध्यक्ष पूर्ण सिंह सुंडा ने सभी का आभार प्रकट किया 

Share This