नहीं थम रहे तूड़ी से भरे ओवरलोड वाहन

बीकानेर(जयनारायण बिस्सा)। पुलिस व परिवहन विभाग की लापरवाही के चलते ओवरलोड  वाहन चालक बेपरवाह होते जा रहे हैं। जिससे सडक़ों पर छोटे वाहनों को तो बड़ी मुश्किल से  साईड लेकर निकलना पड़ता है। नहीं तो दुर्घटना हो सकती है। खास बात तो यह है कि यातायात  विभाग व पुलिस ओवरलोड वाहनों पर कार्रवाई करने का दावा करते है,लेकिन इसके बावजूद भी  ऐसे वाहन सडक़ों पर दौड़ रहे है। सबसे अधिक समस्या तो ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में ढोए जा रहे तूड़े के  कारण होती है। जो क्षमता से अधिक लोड डालकर सडक़ों पर चलते हैं। ऐसे वाहनों से दुर्घटना  होने की संभावना बनी रहती है। 
कई बार लगता है जाम होती है हालत ख़राब 
शहर में दुकानों के आगे मोटरसाइकिलों का जमावड़ा लगा रहता है। सडक़ों की हालत पार्किंग की  तरह हो रही है। अव्यवस्थित वाहनों के चलते दुकानों के आगे से तूड़ा-तूड़ी से भरे ओवरलोड  वाहनों के चलते कई बार जाम लग जाता है। जिससे राहगीरों को परेशानी होती है। 
यातायात नियमों पर नहीं उतरते खरे 
ऐसे वाहन चालकों के पास तो अधिकतर लाइसेंस ही नहीं होते हैं,वहीं वाहनों के संकेतक काम भी  नहीं करते हैं और न ही ऐसे वाहनों पर रिफ्लेक्टर का प्रयोग किया जाता है तथा रात्रि के समय  डिपर का प्रयोग भी नहीं करते हैं। 
यहां चलते हैं ओवर लोड वाहन
शहर में सेटेलाईट अस्पताल के अलावा पुरानी गजनेर रोड़,गंगाशहर,नाल रोड़,सर्वोदय बस्ती रोड़  सहित कई जगहों पर ऐसे ऑवरलोडेड वाहन देखे जा सकते है। 

Share This