केवल किताबी ज्ञान नही सर्वांगिण विकास ज़रूरी- मेहता

खबर - मनोज मिश्रा 
बिसाऊ -आधुनिक युग मे मेरिट व प्रतिशत की अंधी दौड़ में प्रतिभावान विद्यार्थी भी किताबों की दुनिया मे कैद हो गए हैं उनको सर्वांगीण विकास के लिए दुनियावी संस्कारों से अवगत करवाना ज़रूरी है। ये विचार आज जटिया स्कूल बिसाऊ में जिला शिक्षा अधिकारी मा झुन्झुनू मुकेश कुमार मेहता ने व्यक्त किये। मेहता माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान द्वारा आयोजित चूरू मंडल के चूरू,झुन्झुनू,सीकर जिलो के लगभग 100 मेरिटोरियस विद्यार्थियों के  व्यक्तित्व विकास व अभिव्यक्ति उन्नयन हेतु आयोजित शिविर के मुख्य अतिथि पद से बोल रहे थे। समारोह की अध्यक्ष  सरिता आत्रेय सहायक निदेशक चूरू ने कहा कि ऐसे आवासीय शिविरों में रहने से प्रतिभाशाली विद्यार्थियों में अभिव्यक्ति कौशल विकसित होगा साथ ही चहुँमुखी विकास कैसे हो इसकी जानकारी भी मिलेगी। विशिष्ठ अतिथि थानाधिकारी सोहनलाल ने इस अवसर पर विद्यार्थियों को रोजमर्रा के कानूनों से अवगत करवाया। उपस्थित अधिकारियों ने बताया कि राजस्थान में नौ जगह आयोजित किये जाने वाले शिविरों में जटिया स्कूल बिसाऊ ही राजकीय विद्यालय है बाकी निजी विद्यालयों में आयोजित होते है, इससे ही इस विद्यालय की विशेषताओं व सुविधाओ का पता चलता है। ये जिले का नही राजस्थान का एक श्रेष्ठ विद्यालय है। शिविर संयोजक कमलेश कुमार तेतरवाल प्रधानाचार्य ने शिविर के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि इसमें विद्यार्थियों को प्रातः 5 बजे से रात 10 बजे तक योग, प्राणायाम, खेल, शैक्षिक भ्रमण,सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अलावा प्रतिदिन दो विशेषज्ञ वार्ताकारों द्वारा विभिन विषयों पर वार्ता देकर कॅरियर गाइडेंस व काउंसलिंग भी करवाई जाएगी। शिविर पर्यवेक्षक सोमेश शर्मा शैक्षिक प्रकोष्ठ अधिकारी उपनिदेशक चूरू ने शिविर की उपयोगिता पर प्रकाश डाला। उन्होंने वार्डन रमा शर्मा, अरुणा बुडानिया,धर्मचन्द व यशवंत सिंह, दल प्रभारी महेंद्र कुलहरि, जयराम जांगिड़,हीरालाल,खेमचंद,देवेंद्र पुनिया, रिछपाल,रणवीरसिंह,विनीता आदि को पूरी जिम्मेदारी से विद्यार्थियों के बीच रहने के निर्देश दिए। इस अवसर पर प्रकाश शर्मा चूरू,विजय माटोलिया,मुरारी जोशी, राजश्री तेतरवाल सहित सैकड़ो अभिभावक , विद्यार्थी व कस्बे के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे। समारोह का संचालन कपिलेश शर्मा ने किया। प्रधानाचार्य मोहनलाल भार्गव ने आभार व्यक्त किया।

Share This