ट्रेन में टिकट निरीक्षक ने की महिला यात्रियों से अभद्रता

पीडि़त महिलाओं ने परिजनों ने डीआरएम को दिया परिवाद 
बीकानेर(जयनारायण बिस्सा)। ट्रेन में सवार महिला यात्रियों के साथ अभद्रता पेश आने वाले बीकानेर रेल मंडल के टिकट निरीक्षक एजाज खान के खिलाफ पीडि़ता महिलाओं ने मंडल रेल प्रबधंक के समक्ष परिवाद पेश किया है। पीडि़ता महिलाओं का आरोप है कि एजाज खान ने उनके साथ ना सिर्फ गाली गलौच और अभद्रता की बल्कि जुर्माने के तौर पर दो हजार रूपये वसूल कर जुर्माना रसीद भी नहीं दी। बताया जाता है कि  ये टिकट निरीक्षक  झगड़ालू और महिलाओं के प्रति दूषित सोच रखता है,इसके खिलाफ पूर्व में कई शिकायतें बीकानेर मंडल रेल मुख्यालय में हो चुकी है।  इसके अलावा  इस  पर शहर के कई पुलिस थानो में अपराधिक केस भी दर्ज हो चुके है। जानकारी के अनुसार गंगाशहर रोड़ निवासी सभ्य घर परिवार की पांच महिलाएं सोमवार 14 मई 2018 को बीकानेर से रतनगढ़ जाने के लिये सुबह 9.30 बजे बीकानेर रेलवे स्टेशन पर पैंसेजर ट्रेन की टिकट लेकर जल्दबाजी में भूलवश एक्सप्रेस गाड़ी में सवार हो गई। जिन्हे अपनी भूल का अहसास होने पर नापासर स्टेशन पर उतरने लगी तो एक्सप्रेस में टिकट निरीक्षक  खान ने उनसे अभ्रदता और गाली-गलौच शुरू कर दी और उनसे पैंसेजर ट्रेन की टिकटें छीन कर जुर्माने के तौर पर दो हजार रूपये भी वसूल लिये तथा जुर्माने की रसीद मांगने पर वह उग्र हो गया और उग्र लहजे में बोला कि कोई रसीद-वसीद नहीं मिलेगी मेरा जो उखाडऩा है उखाड़ लेना,इस तरह की अशोभनीय भाषा शैली के कारण सभ्य परिवार की महिलाओं को मौके पर काफी लज्जित होना पड़ा लेकिन लोकलाज के चलते मौके पर महिलाओं ने उससे उलझना ठीक नहीं समझा। इस मामले को लेकर मंडल रेल प्रबंधक एके दूबे ने आरोपी टिकट निरीक्षक एजाज खान के खिलाफ कार्यवाही का आश्वासन दिया है। 

Share This