रसुलपुर ग्राम पंचायत के ताल गांव के पीड़ित परिवार से मिले पूर्व विधायक

खबर - जयंत खांखरा 
खेतड़ी -रसुलपुर ग्राम पंचायत के ताल गांव में खाना बनाते समय कच्चे मकान में आग लग गई जिसके चलते लाखों रूपए नगद व सारा सामान जल कर राख हो गया। इस मार्मिक घटना का पता चलते ही पूर्व विधायक दाताराम गुर्जर पुलिस उप अधीक्षक बिरेंद्र कुमार मीणा  रसुलपुर सरपंच छोटूराम जांगिड़ शनिवार को पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे पूर्व विधायक दाताराम गुर्जर ने मौके पर मौजूद पीड़ित परिवार से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली और अति शीघ्र सरकार से हर संभव मदद दिलाने की बात कही और पूर्व विधायक ने पंचायत की तरफ से पीड़ित परिवार को अनाज और जरूरत का सामान मुहैया करवाया । गौरतलब है कि शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे महिला सब्जी बनाने के लिए जैसे ही तड़का लगाया तो आंग की चिंगारी उछल कर छप्पर में लग गई। जिसके कारण सलेंडर के पाईप ने आग पकड़ ली, अचानक आग देख कर परिजन घबरा गए और चिलाने लगे। आवाज सुन कर आस पड़ोस के लोग मौके पर पहुंच कुएं चला कर आग पर काबु पाया लेकिन तब तक सारा सामान जल कर राख हो गया। सरपंच ने बताया कि आग की चपेट में अाठ कच्चे छप्पर, तीन पशुओं के चारा के छप्पर, कच्चे मकानों में रखा हुआ अनाज, कपड़े, जैवर, घर का सारा सामान व दो लाख 15 हजार रूपए नगद जल कर राख हो गए। सरपंच छोटूराम जांगिड़ ने बताया कि घर के पास में ही जमीन खरीदने के लिए चारों भाईयों ने अपनी दुसरी जगह की जमीन बैची थी जिसके दो लाख 15 हजार रूपए रखे हुए थे। बाकी रूपए जिनकों जमीन बेची थी उनसे लेने थे जिसके चलते वह बच गए। आगजनी की सूचना पर खेतड़ी नगर पुलिस मौके पर पहुंच कर जायजा लिया। सरपंच छोटूराम जांगिड़ ने बताया कि चारों भाईयों को सर ढ़कने के लिए कच्चे मकान ही थे वह भी ऊपर वाले ने छिन्न लिया। परिजनों ने बताया कि सलेंडर में आग लगने के कारण सलेंडर फट गया जिसके कारण सारे कच्चे  मकान उसकी चपेट में आ गया। आग ने परिवार वालों को इतना मौका भी नही मिला की थोड़ा बहुत सामान बाहर निकाल ले। गनीमत रही की आगजनी से कोई जन हानी नही हुई।

Share This