प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खेतड़ी आने की संभावनाएं बढी

11 सितंबर को कर सकते हैं राम कृष्ण मिशन संग्रहालय का उद्घाटन 
 अजीत विवेक म्यूजियम का उद्घाटन करेंगे नरेंद्र मोदी
जयन्त खाँखरा 
खेतङी -प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 सितंबर को खेतड़ी का दौरा कर सकते हैं रामकृष्ण मिशन में बन रहे स्वामी विवेकानंद के जीवन पर  "अजीत विवेक म्यूजियम " का उद्घाटन कर सकते हैं रामकृष्ण मिशन के सचिव आत्मनिष्ठानंद महाराज ने बताया प्रधानमंत्री कार्यालय से राज्य सरकार के पास पत्र आया उस पत्र की कॉपी हमारे पास पहुंची है जिसमें संग्रहालय के कार्य का ब्यौरा मांगा गया है जिस का विवरण भेज दिया है साथ ही पिछले 1 साल से प्रधानमंत्री कार्यालय से लगातार चिट्ठियों द्वारा संपर्क में है । जब स्वामी विवेकानंद ने विश्व धर्म सम्मेलन  शिकागो में व्याख्यान दिया था उसकी 125वीं वर्षगांठ 11 सितंबर को आ रही है ।स्वामी जी विश्व धर्म सम्मेलन  शिकागो  खेतड़ी से ही गए थे । और उन्होंने पूरे विश्व में सनातन धर्म का परचम लहराया था ।हम भी चाहते हैं 11 सितंबर को संग्रहालय का उद्घाटन किया जाए संग्रहालय  का काम भी  अब  पूरा हो गया है रविवार को हिंदुस्तान कॉपर लिमिटेड की केसीसी शाखा के दौरे पर आए खान मंत्रालय के संयुक्त सचिव डॉ एन के सिंह, निदेशक खनन एस के भट्टाचार्य, वरिष्ठ संपर्क अधिकारी एचसीएल दिल्ली मनोज चौधरी, अधिशासी निदेशक खेतड़ी कॉपर कॉन्प्लेक्स आर के शाह ने स्वामी विवेकानंद संग्रहालय का दौरा किया। डॉक्टर सिंह ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा की खेतड़ी से स्वामी विवेकानंद की बहुत सारी यादें जुड़ी हुई है यह संग्रहालय उनकी याद में बनाया जा रहा है उन्होंने संग्रहालय को  अविस्मरणीय  व बेजोड़  बताया  तथा  आशा जताई कि प्रधानमंत्री संग्रहालय का उद्घाटन करें। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान कॉपर लिमिटेड सीएसआर एक्टिविटी के अंतर्गत कई जनहितार्थ कार्य करती है रामकृष्ण मिशन संग्रहालय के लिए उच्चाधिकारियों से बात कर हर संभव प्रयास किए जाएंगे जिससे इनको बजट मुहैया करवाया जाएगा।
अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होगा संग्रहालय
मिशन के सचिव आत्मनिष्ठ आनंद महाराज ने बताया कि संग्रहालय अब पूरा बनकर तैयार है। संग्रहालय अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होगा संग्रहालय को देखने के लिए एक बार में लगभग 20 लोगों को अनुमति दी जाएगी स्वामी विवेकानंद और राजा अजीत सिंह से जुड़ी यादों के लिए अलग अलग प्रदर्शनियां लगाई गई हैं उनको अलग अलग नंबर दिए गए हैं हर विजिटर को एक कंप्यूटराइज्ड हेडफोन दिया जाएगा जिसके माध्यम से उनको हर स्थान पर पहुंच कर उसकी जानकारी मिलेगी। ऐसा भारत में यह पहली बार होने जा रहा है
पर्यटकों के लिए होगी विशेष लिफ्ट की व्यवस्था

फतेह विलास महल रामकृष्ण मिशन में बन रहे अजीत विवेक संग्रहालय खेतड़ी नरेश का एक पुराना महल है उसी में कुछ फेरबदल करके यह संग्रहालय बनाया जा रहा है चार मंजिला इस संग्रहालय में पर्यटकों के लिए विशेष लिफ्ट की व्यवस्था की गई है पहले माले में स्वामी विवेकानंद के जन्म से लेकर उनके शिकागो जाने की यात्रा को बखूबी दर्शाया गया है दूसरे और तीसरे माले पर उनके जीवन की कुछ महत्वपूर्ण घटनाएं दिखाई गई है चौथे माले पर जहां स्वामी विवेकानंद स्वयं आकर रुकते थे उसमें ध्यान कक्ष बनाया गया है।
संग्रहालय के लिए ऑनलाइन टिकटों की भी होगी व्यवस्था 
 मिशन के सचिव आत्मा निष्ठानंद ने जानकारी दि कि अजीत विवेक संग्रहालय को देखने के लिए अब देश विदेश से पर्यटक और स्वामी विवेकानंद के अनुयाई आएंगे जिनके लिए विशेष ऑनलाइन टिकटों की व्यवस्था भी की गई है ।  मिशन की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन टिकट खरीद सकते हैं।

Share This