मोदी सरकार ने दिया शेखावाटी को रक्षा बंधन का तोहफा

खबर - पवन शर्मा 
यमुना नहर के लिए छह राज्यों के बिच हुआ समझौता 
सूरजगढ़ । दशकों से जिले में यमुना का पानी आने की बांट जोह रहे जिलेवासियों को इसके आने की उम्मीद मंगलवार को आखिरकार पूरी होती दिखाई दे गई। मंगलवार को इसके संबंध में छह राज्यों के बिच ओएमयू हो गया। जिसके बाद जिले वासियो में ख़ुशी की लहर दिखाई दे गई। इसके संबंध में कस्बे में सांसद आवास पर सांसद संतोष अहलावत ने पत्रकार वार्ता करते हुए जानकारी दी। सांसद संतोष अहलावत ने कहा कि साफ़ नियत सही विकास के अपने आदर्श-वाक्य पर कार्य करते हुए आज केंद्र सरकार द्वारा दशकों से लंबित पड़ी शेखावाटी में यमुना जल पहुंचने की कवायत को अंततः पूर्ण करने की दिशा में सबसे बड़ी कठिनाई को समाप्त कर लिया गया। केंद्रीय जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण तथा जहाजरानी, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी द्वारा ऊपरी यमुना बेसिन क्षेत्र में 3966.51 करोड़ रुपये की लागत वाली लखवाड़ बहुउद्देशीय परियोजना के निर्माण के लिए उत्तर प्रदेश, राजस्थान, उत्तराखंड, हरियाणा,हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के मुख्य मंत्रियों के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये गए। लखवाड़ परियोजना के तहत उत्तराखंड में देहरादून जिले के लोहारी गांव के पास यमुना नदी पर 204 मीटर ऊंचा कंक्रीट का बांध बनाया जाना है। बांध की जल संग्रहण क्षमता 330.66 एमसीएम होगी। इससे 33,780 हेक्‍टेयर भूमि की सिंचाई की जा सकेगी। इसके अलावा इससे यमुना बेसिन क्षेत्र वाले छह राज्यों में घरेलू तथा औधोगिक इस्तेमाल और पीने के लिए 78.83 एमसीएम पानी उपलब्ध कराया जा सकेगा।
सांसद संतोष अहलावत ने कहा कि परियोजना पर आने वाले कुल 3966.51 करोड़ रुपये की लागत में से बिजली उत्पादन पर होने वाले 1388.28 करोड़ का खर्च उत्तराखंड सरकार वहन करेगी। परियोजना पूरी हो जाने केबाद तैयार बिजली का पूरा फायदा भी उत्तराखंड को ही मिलेगा। परियोजना से जुड़े सिंचाई और पीने के पानी की व्यवस्था वाले हिस्‍से के कुल 2578.23 करोड़ के खर्च का 90 प्रतिशत(2320.41 करोड़ रुपये) केंद्र सरकार वहन करेगी जबकि बाकी 10 प्रतिशत का खर्च छह राज्यों के बीच बांटा गया है। जिसके अनुसार राजस्थान सरकार को केवल 24  करोड़ रुपये ही देने होंगे। 



पीएम मोदी सीएम राजे व नितिन गडकरी का जताया आभार  

प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए सांसद संतोष अहलावत ने  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण तथा जहाजरानी, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का आभार  जताते हुए कहा कि लखवाड़ परियोजना केंद्र सरकार द्वारा शेखावाटी वासियों के रक्षा बंधन का तोहफा है। समझौता ज्ञापन पर सभी 6 राज्यों के मुख्य मंत्रियों के हस्ताक्षर एक बहुत बढ़ी उपलब्धी है, जिसके बाद अब यमुना का जल शेखावाटी की धरती पर पहुंचेगा और ज़िले वासियों को सिचाई के साथ साथ पेय जल भी उपलब्ध हो पायेगा। 
मेहनत का मिला इनाम 
सांसद संतोष अहलावत ने कहा की 2014 से वो निरंतर ज़िले को उसके हिस्से के 9  प्रतिशत यमुना जल के लिए संसद में आवाज उठाती आ रहीथी और आज 4  साल बाद उन्हें इस में कामयाबी मिली पाई है, अब उनकी पूरी कोशिश रहेगी की जल्द से जल्द इस कार्य को लेकर धरातल पर कार्य शुरू कराया जा सकें। सांसद अहलावत ने कहा की इस शेखावाटी में यमुना जल लाने के कार्य की डी.पी.आर का कार्य लगभग पूर्ण हो चूका है और जल्द ही केंद्र सरकार को उपलब्ध कराई जायेगी।
विरोधियो पर हमला 
इस दौरान सांसद संतोष अहलावत ने यमुना नहर के नाम पर राजनीती करने वालो पर भी प्रहार करते हुए सांसद अहलावत ने कहा की पिछली सरकारों द्वारा ज़िले की जनता को यमुना जल के नाम पर वर्षो तक ठगा गया है। यमुना जल को मुख्य चुनावी मुद्दा  बनाया गया और हर बार झूठा आश्वाशन दे कर लोगो के वोट बटोरे गए। लोगो का ध्यान भटकने के उद्देश्य से ज़िले में नहर के नाम से पत्थर तक लगा दिए गए। परतु यमुना नहर का ज़िले में आने का लोगो का सपना सिर्फ सपना बन कर रह गया था। लेकिन भाजपा सरकार है जिसने बिना किसी भेद भाव के शेखावाटी के लोगो के दर्द को समझा और दशको से लंबित पड़े यमुना जल मुद्दे को पूरी संवेदनशीलता के साथ सभी को साथ लेकर पूरा करने का काम किया है। 
आरजकता पैदा कर देश का माहौल बिगाड़ रही है विपक्षी पार्टी 
सांसद संतोष अहलावत ने कहा की विपक्षी पार्टियों का काम अब केवल देश और प्रदेशों में अराजकता फैला कर, लोगो को आपस में लड़ा कर, फिर से सत्ता पर काबिज होना है। इनको लोगो के विकास से या क्षेत्र के विकास से कोई सरोकार नहीं है - उनके लिए तो सिर्फ सत्ता चाहिए फिर उसके लिये चाहे उनको कुछ भी क्यों ना करना पड़े। लेकिन भाजपा सरकार केवल विकास में विश्वास रखती है। हमे विश्वास है अगर किसान, गरीब, मजदूर और गावों का विकास होगा तो देश का विकास होगा। हमें देश का विकास करना है ना की किसी व्यक्ति या परिवार विशेष का। भाजपा का नारा है सब का साथ, सब का विकास, और सरकार फिर वह चाहे राज्य की हो या केंद्र की लोगो का विकास हमारे लिए सर्वोपरि है।
ये रहे पत्रकार वार्ता में मौजूद 
सूरजगढ़ कस्बे में सांसद आवास पर हुई पत्रकार वार्ता के दौरान भाजपा नेता सुरेन्द्र अहलावत, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष सुभाष शर्मा,बुहाना प्रधान प्रतिनिधि कृष्ण यादव, जिला परिषद सदस्य संतोष शर्मा, कैरू सरपंच रवि,नरेश मेधवाल जिला परिषद सदस्य, पार्षद अनिल शर्मा, सुरेश जलिन्द्रा, मनोज महमिया, सुरेन्द्र नायक, भूपेन्द्र अरडावतिया, सोनम नायक, सम्पत देवी,पार्षद रूकमानन्द सैनी ,पार्षद राकेश नांदवाला ,सहवृत सदस्य राजेंद्र शर्मा ,राजेंद्र सौंकरिया ,भाजपा मंडल अध्यक्ष सुरेंद्र चौहान,महपालवास सरपंच रणवीर नाड़ा,सहित अन्य जन प्रतिनिधि व कार्यकर्ता मौजूद थे। 

Share This