भाजपा कुशासन के खिलाफ कांग्रेस की संकल्प पदयात्रा शुरु

खबर - पंकज पोरवाल 
जगह-जगह हुआ स्वागत, सरकार के खिलाफ गंूजा डीजे तो पुलिस ने करवाया बंद
भीलवाड़ा। जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा भाजपा के कुशासन एवं भ्रष्टाचार से आमजन को निजात दिलाने के साथ ही कांग्रेस की रीती नीतियों एवं कांग्रेस द्वारा किए गए विकास कार्यों को आम जन तक पहुंचाने देश और प्रदेश में कांग्रेस सरकार की स्थापना को लेकर शनिवार संकल्प पदयात्रा जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा के नेतृत्व में शहर के बड़े चारभुजा मंदिर से रवाना हुई। यात्रा के पहले ही दिन डीजे बजाने को लेकर विवाद हो गया। डीजे पर भाजपा सरकार के खिलाफ गीत बज रहे थे तो पुलिस ने जबरन डीजे बंद करवा दिया। इस बात को लेकर कांग्रेस महासचिव महेश सोनी तथा पुलिसकर्मियों में जोरदार बहस भी हो गई। जिला कांग्रेस कमेटी के तत्वावधान में संकल्प पदयात्रा की शुरुआत से पहले सुबह कार्यकर्ता बड़ा मंदिर पहुंचने लगे। कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा सहित अन्य नेताओं ने बड़ा चारभुजा जी मंदिर में भगवान के दर्शन कर आशीर्वाद लिया। इसके बाद हरी झंडी दिखाने की औपचारिकता के बगैर पदयात्रा शुरू हो गई। पदयात्रा में आगे कांग्रेस का रथ चल रहा था। डीजे पर भाजपा सरकार के कुशासन संबंधित गाने बज रहे थे। पीछे दुपहिया वाहनों पर सवार कार्यकर्ता चल रहे थे। यात्रा में लगभग एक दर्जन चारपहिया वाहन भी थे। सर्राफा बाजार, गुलमंडी, सूचना केंद्र पर पदयात्रा का जोरदार स्वागत हुआ। पदयात्रा में जहाजपुर विधायक धीरज गुर्जर, पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष कैलाश व्यास व अनिल डांगी, पूर्व नगर परिषद सभापति ओम नराणीवाल, चेतन डीडवानिया, सुरेश श्रीमाली, दुर्गेश शर्मा, ब्लॉक अध्यक्ष हेमेंद्र शर्मा, मंजू पोखरना, पुर्व पार्षद उस्मान पठान, पृथ्वीराज नकवाल, गोपाल गोदारा, जाकिर हुसैन, प्रदेश महिला महासचिव इन्द्रा सोनी, महिला जिलाध्यक्ष रेखा हिरण, सुमित्रा कांटिया, अर्चना सोनी, राजकुमार पायक, अविचल व्यास, इमरान खान, मुकेश खोईवाल, सहित कई कांग्रेस कार्यकर्ता और पदाधिकारी मौजूद रहे। 
नौ दिन में सातों विधानसभा में जाएगी पदयात्रा 
 जिला महासचिव महेश सोनी ने बताया कि नौ दिवसीय पदयात्रा जिले के सातों विधानसभा क्षेत्र भीलवाड़ा, सहाड़ा, मांडल, आसींद, शाहपुरा, जहाजपुर व मांडलगढ़ में जाएंगी। इस दौरान लगभग 600 गांवों को कवर किया जाएगा। इसका मकसद भाजपा के कुशासन से त्रस्त आमजन को राहत दिलाने, उनकी समस्याएं सुनने व कांग्रेस की जनकल्याणकारी नीतियों व उपलधियों को जनता को बताना है।
शुरूआत मे ही विवाद 
 जैसे ही पदयात्रा बालाजी मार्केट में पहुंची। वहां बालाजी मंदिर के बाहर ही पुलिस ने डीजे बंद करवाने के लिए कहा। इस बात को लेकर कांग्रेस महासचिव महेश सोनी तथा पुलिसकर्मियों में गर्मागर्मी हो गई। इस दौरान पुलिस ने डीजे वाहन चलाने वाले के फोटो भी खींच लिए। बालाजी मंदिर में दर्शन करने के बाद यहां से पदयात्रा रेलवे स्टेशन चैराहा, गंगापुर चैराहा, पांसल चैराहा होते हुए दोपहर में पुर पहुंची। पदयात्रा का जगह-जगह स्वागत हुआ। 
राजनीतिक दबाव में बंद कराया डीजे: कांग्रेस
 हमने पदयात्रा का रूट पहले ही जिला कलटर व पुलिस अधीक्षक को लिखित में देकर स्वीकृति ली थी। कोतवाली एसएचओ का कहना था कि कोर्ट की रोक है। इसीलिए डीजे नहीं बजा सकते। जबकि कोर्ट के आदेश रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक है। पुलिस ने केवल राजनीतिक दबाव में डीजे बंद करवाया। वो राज से बेदखल हो रहे हैं, इसलिए ऐसी औछी हरकतें कर रहे हैं।      - महेश सोनी, जिला महासचिव, कांग्रेस 

Share This