सरस्वती स्कूल ने बनाया कीर्तिमान

नवलगढ़ -सरस्वती स्कूल बलवन्तपुरा के विज्ञान वर्ग के विज्ञान वर्ग के 14 विद्यार्थियों का विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय भारत सरकार की ओर से इंस्पायर अवार्ड के लिए चयन किया गया है। संस्था के निदेषक श्री बीरबल सिंह गोदारा ने बताया कि विद्यालय के बच्चों का नाम राहुल कुमावत पुत्र श्री राजेन्द्र प्रसाद, करिष्मा पुत्री श्री रामप्रताप, आदित्य पुत्र श्री नरेन्द्र कुमार, निकिता कुमारी पुत्री श्री महीपाल नैण, रजनी कुमारी पुत्री श्री पृथ्वीसिंह ओला, निषा कुमारी पुत्री श्री रामरतन सिंह, प्रणय कुमावत पुत्र श्री रामावतार कुमावत, मधुबाला पुत्री श्री कैलाष पुरी, जिया सैनी पुत्री श्री विनोद कुमार सैनी, विकास कुमार पुत्र श्री विजय सिंह, अतुल शर्मा पुत्र श्री मुरारीलाल शर्मा, रचिता कुमारी पुत्री श्री सहीराम, विरेन्द्र कुमार पुत्र श्री जीवणराम सैनी, दीपक कुमार पुत्र श्री भींवाराम का इंस्पायर अवार्ड के लिए चयन हुआ है। यह अवार्ड स्कूल स्तर पर विद्यार्थियों में विज्ञान के प्रति अभिरूचि बढ़ाने एवं रिसर्च हेतु प्रोत्साहित करने के लिए दिया जाता है। यह अवार्ड राजस्थान बोर्ड के कक्षा 12 विज्ञान वर्ग के टाॅप 1प्रतिषत विद्यार्थियों को दिया जाता है। इन सभी विद्यार्थियों ने 12वीं विज्ञान वर्ग में 87.20 प्रतिषत से अधिक अंक प्राप्त कर यह अवार्ड हासिल किया है। इसके अन्तर्गत चयनित विद्यार्थियों को उच्च अध्ययन हेतु 80000/रू वार्षिक की राषि 5 वर्षो तक के लिए प्रदान की जाती है। इस प्रकार सरस्वती स्कूल बलवन्तपुरा के विद्यार्थियों ने कुल 56 लाख रूपये की छात्रवृति राषि प्राप्त कर एक कीर्तिमान स्थापित किया है। जो नवलगढ़ क्षेत्र में सर्वाधिक है।
प्रधानाचार्य हेमन्त दाधिच ने बताया कि यह उपलब्धि विद्यालय को मिलने वाली उपलब्धियों में एक नया सोपान है।
इस अवसर पर संस्था के कार्यकारी अधिकारी श्री नवीन राज गोदारा ने विद्यार्थियों को प्रोत्साहित किया एवं आगे बढ़ने हेतु प्रेरित किया।


Share This