सिद्दू ने फिर सुलगाई कांग्रेस की अंदरूनी राजनीति, पायलट को बताया भावी मुख्यमंत्री

जयपुर। अशोक गहलोत व सचिन पायलट के समर्थक समय समय पर दोनों को मुख्यमंत्री का उम्मीदवार बताकर चापलूसी करते हुए दिखाई देते है। किन्तु ऐसा पहली बार हुआ कि कांग्रेस के हाईकमान राहुल गांधी द्वारा पंजाब के पर्यटन मंत्री नवजोतसिंह सिद्दू को विशेष प्रयोजन से एमिटी यूनिवरर्सिटी के कार्यक्रम में भाग लेने के बहाने भेजकर सचिन पायलट को राजस्थान में कांग्रेस का मुख्यमंत्री का उम्मीदवार घोषित करवाया गया। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता पिंकेश पोरवाल ने कहा कि कांग्रेस की राजनीति में पहले ही दोनों नेताओं के आपसी मतभेद रह रह कर किसी न किसी बहाने सामने आ रहे थे किन्तु जनता को भ्रमित करने के लिए कभी तो ये सोफे पर एक साथ बैठते है कभी बस की सीट पर एक साथ बैठते है। और हद तो तब हो गई टेªफिक जाम का बहाना बनाकर मोटरसाईकिल पर साथ में बैठे। पोरवाल ने कहा कि कांग्रेस चाहे जो जतन करले इनके आपसी झगड़े व अन्र्तद्वन्द किसी से छुपे नहीं है। यदि नवजोतसिंह सिद्दू की माने तो सचिन पायलट ही राजस्थान में कांग्रेस के मुख्यमंत्री के उम्मीदवार रहेंगें और अशोक गहलोत को केन्द्र में भेजने का सपना दिखायेंगें। सिद्दू के एक दिन पहले दिये बयान पर अभी तक किसी की प्रतिक्रिया नहीं आई है। मतलब साफ हैं कि अब अशोक गहलोत राजस्थान की राजनीति से बाहर हो गये है, कांग्रेस सिर्फ उनके चेहरे को मोहरे की तरह इस्तेमाल करेगी। 




Share This