एक मिनट में 60 लोगों से मुलाकात

खबर - प्रशांत गौड़  
-गहलोत आवास पहुंचे हजारों समर्थक से मिले 
जयपुर। प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सिर कांटों भरा ताज सजा है। यह ताज इसलिए भी कांटों से भरा है कि उनको प्रदेश की जनता की उम्मीदों पर खरा उतरना है। जनता से किए वादे पूरे करना है। संतुलित मंत्रीमंडल का गठन करना है। सचिन पायलट को हमेशा साथ रखना है ऐसे में मुख्यमंत्री बनने के बाद शुक्रवार रात 10 बजे तक गहलोत अपने निवास उनको बधाई देने आए आम लोग, कार्यकर्ता, व्यापारी, समाजसेवा से जुड़े लोगों से मिलते रहे। गहलोत ने करीब एक मिनट में 60 लोगों से मुलाकात की लेकिन हजारों समर्थक होने के कारण उनको अपने निवास स्थान के बाहर इन समर्थकों से खुले लॉन मे मिलना पड़ा। इस दौरान कार्यकर्ताओं का गर्मजोशी से स्वागत करते गहलोत सबको मुस्करा देखकर विदा कर रहे थे।
सरकार गठन होने के साथ किसानों की कर्जमाफी, बेराजगारी, महिलाओं की सुरक्षा, बेटियों को हाई नि:शुल्क शिक्षा, सरकारी नौकरियां जैसे मामलों में सरकार को पूरी गंभीरता से काम करना होगा। ऐसे में उपमुख्यमंत्री बने सचिन पायलट को साथ लेकर कैसे यह समीकरण साधते है यह आसान नहीं होगा अभी मंत्रीमंडल गठन में दो बार पॉवर सेंटर होने के कारण परेशानियां आनी तय है जिसके कारण सबको साथ लेकर चलने और सही सरकार चलाने की महती जिम्मेदारी पूरी करने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पूरी मुस्तैदी से लगे इसकी झलक अभी से दिखाई दे रही है जब शरीर में थकान महसूस होने और उनकी  बॉडी लेग्वेज से थकान दिखने के बावजूद वह बिना रुके लोगों से मिलते हुए यह दिखाने की कोशिश की वह पांच साल आम जनता सेजुड़कर काम करेंग

Share This