कार्यवाहक एसडीएम की कार्यशैली से नाराज वकीलों ने किया प्रदर्शन

खबर - पवन शर्मा 
सूरजगढ़ । बुहाना एसडीएम और कार्यवाहक सूरजगढ़ एसडीएम राधिका देवी की कार्यशैली को लेकर सोमवार को स्थानीय वकीलों में रोष व नाराजगी नजर आई। इसको लेकर अभिभाषक संघ के अध्यक्ष संदीप मान के नेतृत्व में वकीलों ने उपखंड कार्यालय के सामने नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया। अभिभाषक संघ के अध्यक्ष संदीप मान ने बताया की सूरजगढ़ एसडीएम सुमन चौधरी के अवकाश पर जाने के बाद बुहाना एसडीएम राधिका देवी को सूरजगढ़ का अतिरिक्त कार्यभार दिया गया है। मान ने बताया कि एसडीएम राधिका देवी का वकीलों को लेकर व्यवहार अच्छा नहीं है। वे गुरुवार और शुक्रवार को कार्यालय में आती है और उन्ही दिनों वे सुनवाई करती है। मान व अन्य वकीलों ने एसडीएम पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा की एसडीएम तय दिनों के अलावा कार्यालय में आकर पैसे लेकर मामलों का निस्तारण किया है आज भी वो अचानक कार्यालय में आई और दो फाइलें अपने चेंबर में मंगवाई जिसका स्थानीय वकीलों ने विरोध किया तो उन्होंने अभद्र व्यवहार किया। वकीलों ने कहा की एसडीएम के खिलाफ निंदा प्रस्ताव ले लिया गया है। जिसकी शिकायत उच्च अधिकारियो को कर दी गई है। वकीलों ने बताया कि सूरजगढ़ में जब तक एसडीएम राधिका देवी के पास चार्ज रहेगा तब तक वे कार्य का बहिष्कार करते रहेंगे। 

एसडीएम ने आरोपों को बताया बेबुनियाद 
मामले को लेकर एसडीएम राधिका देवी ने कहा कि वकीलों द्वारा जो आरोप लगाए जा रहे है वो बेबुनियाद है। आज किसी काश्तकार का फ़ोन आने पर वो कार्यालय में आई थी। जब उसने वकीलों से बहस के लिए कहा तो वे कहने लगे आज वे फाइल नहीं लाये। जिस पर उन्हें गुरुवार को बहस के लिए कहा गया। राधिका देवी ने कहा की उन्होंने किसी वकील के साथ कोई अभद्र व्यवहार नहीं किया है उल्टे खुद वकीलों ने एक महिला पीठासीन अधिकारी के साथ अशोभनीय व्यवहार किया है। राधिका देवी ने कहा की वो अपना कार्य निष्ठा व ईमानदारी के साथ बिना किसी दबाव व नियमानुसार करती रहेगी।  


Share This