पोदार शिक्षण संस्थाओं में मनाया गया बसंतोत्सव

नवलगढ़:- दी आनन्दीलाल पोदार ट्रस्ट द्वारा संचालित पोदार काॅलेज, पोदार बी.एड. काॅलेज, पोदार जी.पी.एस., पोदार एस.के.पी. टाइनी टोडलर, पोदार आई.टी.आई., पोदार हिन्दी माध्यम एवं पोदार प्राइमरी स्कूल में आज माँ सरस्वती के प्राकाट्य दिवस बसंत पंचमी को बड़े हर्षोल्लास व गरिमामय ढ़ंग से मनायी गई। सभी संस्था प्रधानों ने वीणापाणि के तिलक श्रृंगार एवं द्वीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। विद्यार्थियों ने ‘‘या कुन्देदु-तुषारहार-धवला या शुभ्र बस्त्रावृता’’ के साथ ज्ञान की देवी माँ सरस्वती का स्तुतिगान किया। पोदार काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सत्येन्द्र सिंह ने इस अवसर पर सरस्वती के प्राकाट्य दिवस के पीछे की पौराणिक कथा
 व उसके माहात्म्य पर प्रकाश  डाला। पोदार बी.एड. काॅलेज में प्राचार्या दुर्गा भोजक ने इस अवसर पर विद्यार्थियों को माँ शारदे का आशीर्वाद  प्राप्त कर ज्ञान के विविध क्षेत्रों में आगे बढ़ने की बात कही। पोदार जी.पी.एस. की प्राचार्या सोनिया मिश्रा ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए ज्ञान की नवीन ऊर्जा के साथ आगे बढ़ने का आहवान किया। एस.के.पी. टाइनी टोडलर की प्राचार्या प्रेमलता ने इस अवसर पर विद्यार्थियों को माँ शारदे के जन्म से जुड़ी कहानी सुनाकर ज्ञान के क्षेत्र में उनके आषीर्वाद के महत्व को समझाया। पोदार आई.टी.आई. के प्राचार्य एस.एस. बख्शी, पोदार हिन्दी माध्यम के प्राचार्य डाॅ. मोहन सिंह ने बसंत पंचमी को ऋतुचक्र परिवर्तन व हमारे दैनिक व व्यावहारिक जीवन से इस दिवस को जोड़कर छात्रों को इसके प्रति प्रेरित किया। 
पोदार ट्रस्ट के चेयरमैन कांतिकुमार आर. पोदार व ट्रस्टी सुश्री वेदिका पोदार ने इस अवसर पर सभी संस्था प्रधानों के माध्यम से सभी विद्यार्थियों को अपने शुभकामना सन्देश  में कहा कि ज्ञान के मंदिर में माँ शारदे के आशीर्वाद  व स्वयं की लगन से सभी ज्ञान के विविध क्षेत्रों में नये-नये कीर्तिमान स्थापित करें। सभी के मन-मस्तिष्क में ज्ञान के नए स्त्रोत खुलें, ऐसी हमारी शुभकामना है।


Share This