खेतड़ी में है अनोखा रिवाज

खबर - जयंत खांखरा 
शिवरात्रि के दूसरे दिन होती है योगी बाबा की पूजा
उसके बाद ही पूर्ण होता है शिवरात्रि का व्रत 
हिरण के सींग की शंखनाद के साथ योगी बाबा करवाते पूजा
खेतङी - महाशिवरात्रि को लेकर जहां पूरे देश भर में भगवान भोलेनाथ को रिझाने के लिए लोग पूजा पाठ, हवन, भजन और व्रत रखकर अपनी मनोकामना मांगते हैं वहीं महाशिवरात्रि के पर्व पर भोलेनाथ का व्रत रखा जाता है महिलाएं पुरुष बच्चे सभी भोलेनाथ की पूजा-अर्चना करते हैं लेकिन व्रत रखने से ही संपूर्ण प्रतिफल प्राप्त नहीं होता यह बात खेतड़ी कस्बे के लोगों ने अनोखी रिती रिवाज को निभाते हुए कहीं महिलाओं ने बताया कि तेरस के दिन भगवान भोलेनाथ का शिवरात्रि के उपलक्ष पर व्रत रखा जाता है और चौदस के दिन परंपरा के अनुसार जोगी बाबा घर आते हैं जोगी बाबा की पूजा की जाती है  उनकी पूजा कर विधिवत व्रत को संपूर्ण किया जाता है जोगी बाबा अपने दिल पत्थर से बने कमंडल तथा हिरण के सींग से बने शंख की शंखनाद से घर में भोलेनाथ की पूजा अर्चना करवा कर विधिवत महाशिवरात्रि के व्रत की पूर्ण होने की घोषणा करते हैं इस उपलक्ष पर महिलाएं घर में भोजन, चावल ,मूंग इत्यादि बनाकर जोगी बाबा को दान दक्षिणा देती है।

Share This