महिलाएं दुग्ध व्यवसाय से जुड़ कर जीवन में आर्थिक उन्नति कर सकती: मिनेश शाह

खबर - पंकज पोरवाल 
भीलवाड़ा डेयरी द्वारा शाहपुरा के सोलों का खेड़ा में मनाया विश्व दुग्ध दिवस 
महिला समिति का वल्र्ड बैंक टीम ने किया निरीक्षण, दुग्ध व्यवसाय में उत्कृष्ट कार्य करने वाली संस्थाओं को किया सम्मानित 
भीलवाड़ा । भीलवाड़ा दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लि. भीलवाड़ा की ओर से शनिवार को शाहपुरा तहसील के सोलों का खेड़ा में महिला दुग्ध उतपादक सहकारी समिति लि. के परिसर में जिला स्तरीय विश्व दुग्ध दिवस का आयोजन किया गया। इस मौके पर राष्ट्रीय डेयरी योजना प्रथम चरण के तहत संचालित सोलों का खेड़ा महिला दुग्ध उत्पादक सहकारी समिति का वर्ष 17-18 का बोनस तथा दुग्ध व्यवसाय में उत्कृष्ट कार्य करने वाली संस्थाओं व उनके प्रतिनिधियों को पारितोषिक देकर सम्मानित किया गया। भीलवाड़ा डेयरी के एमडी एनके जैन की मौजूदगी में आयोजित समारोह में विश्व बैंक की 6 सदस्ययीय टीम मि. एडवर्ड की अगुवाई में व राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड के एक्जक्यूटिव डायरेक्टर मिनेश शाह, राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड के प्रशासक ओमप्रकाश, प्रबंधक प्रीतेश जोशी ने समिति पर स्थापित बल्क मिल्क कूलर की समस्त प्रक्रिया की जानकारी लेकर समारोह में संबोधित किया। इस दौरान समारोह की थीम इस बार ड्रिंक मिल्क टूडे एंड एवरी डे रखा गया। इस कारण समारोह में सभी को फ्लेवर्ड मिल्क वितरित किया गया। समारोह में सोलों का खेड़ा महिला दुग्ध उत्पादक सहकारी समिति पर वर्ष 17-18 में अर्जित शुद्ध लाभ में से 1 लाख 94 हजार रू का 87 सदस्यों का मूल्य दर अंतर राशि का वितरण भी किया गया। राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड के एक्जक्यूटिव डायरेक्टर मिनेश शाह ने इस मौके पर कहा कि राष्ट्रीय डेयरी योजना के प्रथम चरण में गठित की गई सोलों का खेड़ा महिला दुग्ध समिति में महिलाओं ने बहुत कम समय में अच्छा कार्य किया हैं आज यहां बल्क मिल्क कूलर भी प्रांरभ कर दिया गया है। यहां अब डेयरी की सभी सुविधाएं मुहैया करायी जायेगी। उन्होंने कहा कि आज गावों में महिलाएं दुग्ध व्यवसाय से जुड़ कर जीवन में आर्थिक उन्नति कर सकती हैं। कार्यक्रम में भीलवाड़ा डेयरी के एमडी एनके जेन ने दुग्ध दिवस के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि विश्वभर मे दूध एवं दुग्ध उद्योग से संबंधित क्रियाकलापों के प्रचार प्रसार एवं जन जागरूकता के लिये यह दिवस मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि यहां की सोसायटी ने कम समय में ही अच्छी प्रोगेंस की हैं। उन्हांेने कहा कि दूध शरीर के लिये सभी पोषक तत्वों का एक बहुत अच्छा स्त्रोत है, जिसमे कैल्शियम, मैगनीशियम, जिंक फास्फोरस, आयोडीन, आइरन, पोटेशियम, विटामिन ए, डी एवं 12 तथा राइबोफ्लेविन, प्रोटीन, स्वस्थ फेट आदि मौजूद होता है। यह बहुत ही उर्जायुक्त आहार है। समारोह में विपणन प्रभारी अरविंद गर्ग ने दुध की महत्ता व गुणवत्ता के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। डेयरी की उप प्रबंधक आशा शर्मा ने महिला सदस्यों को अच्छी गुणवत्ता का दुध समिति पर देकर संघ की समस्या योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। इस मौके पर वर्ष 18-19 में जिले में सर्वाधिक दुध देने वाली बच्छखेड़ा बालाजी महिला दुग्ध समिति को प्रथम स्थान प्राप्त करने पर सम्मानित किया गया। विपणन विभाग की ओर से शाहपुरा जोन में सर्वश्रेष्ठ पार्लर संचालक मीना पेसवानी, महिला समितियों पर उतकृष्ट दुग्धदाता अरूणा पारीक बच्छखेड़ा, मोतीया मीणाकाशीपुरा, कमला जाट माताजी का खेड़ा को भी सममानित किया गया। शाहपुरा जोन में उत्कृष्ठ कार्य के लिए दौलतपुरा समिति के सचिव गोपाल कुमावत को भी सम्मानित किया गया। बाद में अतिथियों ने रघुराजपुरा महिला दुग्ध उतपादक समिति का भी निरीक्षण किया। यहां भी प्रथम चरण में बल्क मिल्क कूलर की सथापना की गई है। अतिथियों ने दोनो स्थानों पर साफ सफाई की प्रशंसा की। समारोह में संघ क्षेत्र की विभिन्न दुग्ध समितियों के अध्यक्ष, सचिव, संचालक मंडल सदस्य, रिसोर्स परसन एवं दुग्ध उत्पादक सदस्यों ने भाग लिया। शुरूआत में समिति अध्यक्ष नोसीदेवी जाट व सरपंच रामधन जाट ने सभी का स्वागत किया। सचिव भेरूलाल जाट, सुपरवाइजर श्यामसुंदर जोशी, मुकेश पाराशर ने आभार ज्ञापित किया।

Share This